ई-पास की पेंडेंसी खत्म, अब तक जारी हुए 19 हजार 791 ई-पास

जबलपुर। राज्य शासन के निर्देशानुसार लॉकडाउन के दौरान विशेष परिस्थितियों में जिले या राज्य के बाहर जाने की अनुमति प्राप्त करने नागरिकों से ई-पास पोर्टल पर अब तक प्रापत हुए सभी आवेदनों का निराकरण जिला प्रशासन द्वारा कर दिया गया है ।

जिला प्रशासन द्वारा ई-पास जारी करने के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम प्रभारी अधीक्षक भू-अभिलेख ललित ग्वालवंशी को प्रभारी बनाया गया है । श्री ग्वालवंशी के मुताबिक अभी तक ई-पास पोर्टल पर 30 हजार 391 आवेदन प्राप्त हुए थे । इनमें से सभी आवेदनों का निराकरण कर दिया गया है ।  अब ई-पास की अनुमति जारी करने के लिए कोई भी आवेदन जिला प्रशासन के पास लंबित नहीं है।

श्री ग्वालवंशी के मुताबिक ई-पास पोर्टल पर जबलपुर जिले से दूसरे जिलों अथवा राज्य के बाहर जाने की अनुमति प्रदान के लिए प्राप्त हुए आवेदनों में से 17 हजार 791 ई-पास जारी किये गये हैं । जबकि 10 हजार 596 आवेदनों को सही जानकारी नहीं दिये जाने अथवा आवश्यक दस्तावेज अपलोड नहीं किये जाने की वजह से निरस्त किया गया है । उन्होंने बताया कि चार आवेदन अभी भी राज्य स्तर पर अनुमोदन के लिए लंबित हैं ।

अधीक्षक भू-अभिलेख के मुताबिक ई-पास पोर्टल पर प्राप्त हुए आवेदनों के निराकरण के लिए कलेक्टर भरत यादव के निर्देश पर देर रात तक कंट्रोल रूम में बैठकर उनकी टीम द्वारा काम किया जा रहा है ।