MP में कोरोना की भयावह स्थिति पर शिवराज अस्पताल में फोटो सेशन में लगे हुए है: जीतू पटवारी

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना बेकाबू हो चला है। आमजनों के बाद अब जनप्रतिनिधि भी इसके शिकार होते जा रहे है। मुख्यमंत्री शिवराज समेत कई बीजेपी के नेता, मंत्री और विधायक कोरोना से संक्रमित हो चुके है। कोरोना का संक्रमन अब बीजेपी के दफ्तर तक पहुंच चुका है, जिसके बाद बीजेपी दफ्तर को बफर जोन घोषित कर यहां आवाजाही पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है।

मध्यप्रदेश में बढ़ते संक्रमण को लेकर कांग्रेस के कार्यकारी अध्य्क्ष व विधायक जीतू पटवारी ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। जीतू ने कहा कि, मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस की भयावह स्थिति बनी हुई है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चिरायु अस्पताल में फोटो सेशन में लगे हुए है।

प्रदेश के गृहमंत्री पर भी पटवारी ने हमला बोला और उन्हें राष्ट्रीय अवार्ड देने की बात कही। पटवारी ने कहा, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना का सबसे ज्यादा मख़ौल उड़ाया है, इसलिए उनको राष्ट्रीय अवार्ड मिलना चाहिए। उन्होंने कहा की सरकार ने लॉक डाउन लगाने में देरी की, इसलिए प्रदेश में यह स्थिति बनी है।

कांग्रेस के बिकाऊ नहीं टिकाऊ चाहिए वाले नारे पर नरोत्तम मिश्रा के पलटवार का जीतू पटवारी ने जवाब दिया है। पटवारी ने कहा की देश के लोकतंत्र की हत्या करने का कुचक्र चलाया गया हैं। करोड़ो रूपये का दुरूपयोग कर विधायक खरीदे हैं और जनता देख रही है की कौन टिकाऊ है कौन बिकाऊ है।

दरअसल ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत का चलते गिरी कांग्रेस सरकार ने उपचुनाव से पहले ‘बिकाऊ नहीं, टिकाऊ चाहिए, फिर से कमलनाथ सरकार चाहिए’ का नारा दिया है। इसको लेकर आज प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस के नारे पर पलटवार करते हुए कहा था, कांग्रेस का यह नया नारा बिल्कुल सच कह रहा है क्योंकि टिकाऊ तो सिर्फ भाजपा ही है। कांग्रेस तो चला ही नहीं पाते चाहे मध्यप्रदेश हो या राजस्थान हो। उन्होंने कहा, टिकाऊ अगर कोई है तो भाजपा है दिल्ली में भी टिकी है और यहां भी टिकी है।