जबलपुर: ज्वेलर्स की दुकान में चोरी की योजना बनाते 3 युवक गिरफ्तार

जबलपुर। थाना अधारताल में विश्वसनीय मुखबिर से सूचना प्राप्त हुयी कि महाराजपुर व्हीकल मोड़ रिछाई ओवर ब्रिज के नीचे कुछ व्यक्ति बैठे हैं जों महाराजपुर स्थित माॅं ज्वेलर्स सोने चांदी की दुकान में चोरी करने की योजना बना रहे हैं, सूचना पर रात लगभग 2-30 बजे मुखबिर के बताये स्थान पर दबिस दी गई ब्रिज के नीचे   मुखबिर द्वारा बतायेनुसार तीन व्यक्ति बैठे दिखे जो आपस मे बातचीत कर रह थे कि थोड़ी देर बाद चलकर मां ज्वेलर्स की दुकान में चोरी करना है, घेराबंदी करते हुये तीनों को पकड़ा गया नाम पता पूछने पर तीनों ने अपने नाम अतुल गुप्ता उम्र 22 वर्ष निवासी करोंदा अधारताल, राजकुमार केवट उम्र 26 वर्ष निवासी ़ऋषि नगर करोंदा नाला , छोटू उर्फ दान बहादुर कुशवाहा उम्र 28 वर्ष निवासी सांई कालोनी पेट्रोल पम्प के पीछें करांेदा   बताये,  तलाशी लेने पर अतुल गुप्ता  1 लोहे की हेक्सा ब्लेड एवं एक लोेहे की संसी खोंसे मिला, राजकुमार केवट अपने फुलपेंट के दाहिने जेब में एक लोहे की पेंचिंस , कमर में दाहिने तरफ फुलपेंट के अंदर एक लोहे की हेक्सा ब्लेड खोंसे तथा दाहिने हाथ एक प्लास्टिक की टार्च रखे मिला  , छोटू उर्फ दान बहादुर की तलाशी लेने पर शर्ट के नीचे फुलपेंट के अंदर कमर में वायें तरफ एक लोहे की हथौड़ी जिसमें लकड़ी का बैट लगा हुआ था खोंसे मिला तथा दाहिने हाथ में एक लोहे की बड़ी एवं छोटी राॅड एव फुलपेंट की दाहिने जेब में एक पालीथिन में पिसा हुआ मिर्ची पावडर तथा चाबी का गुच्छा रखे हुये मिले तीनों आरोपियों से उपरोक्त सामग्री जप्त करते हुये धारा 401 भा.द.वि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा समस्त राजपत्रित अधिकारियो एवं थाना प्रभारियो को  पूर्व मे पकड़े गये सम्पत्ति सम्बंधी अपराधियों एवं जेल से रिहा हुये सम्पत्ति सम्बंधी आरोपियों से सघन पूछताछ एवं उनकी गुजर बसर की जांच एवं सम्पत्ति सम्बंधी अपराध में सक्रिय आरोपियों की तलाश पतासाजी तथा चोरी गए मशरूका की बरामदगी हेतु निर्देशित किया गया है। आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उत्तर अगम जैन (भा.पु.से.) के मार्ग निर्देशन मे थाना प्रभारी अधारताल शैलेष मिश्रा को चोरी की योजना बना रहे 3 आरोपी युवकों को पकडने में सफलता प्राप्त हुई है।

आरोपियों को रंगे हाथ पकड़ने में थाना प्रभारी अधारताल शैलेष मिश्रा, उप निरीक्षक अनिल कुमार, प्रधान आरक्षक मोहन तिवारी, आरक्षक हितेन्द्र रावत, शुक्रभान मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही।