पीएम मोदी ने बार्सिलोना हमले की निंदा की

इस ख़बर को शेयर करें:

विश्व के अन्य नेताओं सहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बार्सिलोना में हुए आतंकी हमले की कड़े शब्दों में निंदा की , हमले में हुई थी 13 लोगों की मौत 100 से ज्यादा लोग हुए थे घायल, चार संदिग्धों को किया गया गिरफ्तार, आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी ली।

कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने स्पेन के बार्सिलोना और कैम्ब्रिल्स में गुरुवार को हुए आतंकी हमले की निंदा की है इधर इस्लामिक स्टेट ने दावा किया है कि बार्सिलोना हमले में उसका हाथ है।

स्पेन के बार्सिलोना और कैम्ब्रिल्स में गुरुवार को हुए आतंकी हमले की चौतरफा निंदा हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पेन के राष्ट्रपति को लिखे पत्र में इस आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा है कि- “मैं बार्सिलोना में कल हुए बर्बर आतंकी हमले से बहुत दुखी हूँ और कड़े शब्दों में इसकी निंदा करता हूँ।”

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि अमेरिका बार्सिलोना हमले की निंदा करता है और वह स्पेन की हर संभव मदद करने को तैयार हैं। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने भी हमले की कड़ी निंदा की।

कई अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने भी इस हमले की निंदा की है और कहा है कि वे इस मुश्किल घड़ी में स्पेन के साथ हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा कि उनकी संवेदनाएं हमले’ के पीड़ितों के प्रति हैं। उधर, इंग्लैंड की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने भी ट्वीट कर कहा कि “बार्सिलोना में आतंकी हमले में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति हमारी संवेदना है।

आतंकवाद के खिलाफ इंग्लैंड स्पेन के साथ खड़ा है।” कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने ट्वीट कर कहा, “बार्सिलोना में आतंकी हमले की कनाडा निंदा करता है। हमारा दिल, सहानुभूति और समर्थन पीड़ितों और उनके परिवारों के साथ है। गुरुवार को बर्सिलोना में हुए आतंकी हमले में 14 लोग मारे गए हैं, जबकि 100 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। आतंकी संगठन आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो रख़ॉय ने इसे जिहादी हमला करार दिया है और तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की ।

इस बीच पुलिस ने 5 संदिग्धों को मार गिराया है और चार संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। पुलिस यूनियन के मुताबिक एक संदिग्ध की पहचान ड्रिस ओउकाबीर के तौर पर की गई है। हालाँकि हमला करने वाले वैन का ड्राइवर अभी भी फरार है।