पीएम मोदी ने देहरादून में उत्तराखंड निवेशक सम्मेलन का किया उद्घाटन

इस ख़बर को शेयर करें:

उत्तराखंड निवेशक सम्मेलन का उद्घाटन प्रधानमंत्री मोदी ने किया. ये राज्य में पहला निवेशक सम्मेलन है. इसमें चेक गणराज्य साझीदार देश के तौर पर शिरकत कर रहा है. प्रधानमंत्री ने सम्मेलन के मौके पर राज्य की औद्योगिक प्रगति को देखा. थीम पवेलियन में उन्होंने राज्य की बढ़ती औद्योगिक रफ़्तार का भी मुआयना किया. राज्य में नवीकरणीय ऊर्जा, खाद्य प्रसंस्करण, जैविक उत्पाद और हैंडीक्राफ्ट को बढ़ावा देना इन सबका मकसद है.

दो दिवसीय सम्मेलन से राज्य में रोज़गार सृजन के मौक़ों में बढोतरी होगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में आधारभूत संरचनाओं के निर्माण के काम तेज़ी से चल रहे हैं. छोटे शहरों में भी विकास कार्य हो रहे हैं, ऐसे में निवेश के लिए भारत बेहतर स्थानों में से एक है.

उत्तराखंड में जड़ी-बूटियों के उत्पाद बनाने और एरोमेटिक को भी बढ़ावा मिलेगा. इसके अलावा विनिर्माण, फार्मास्युटिकल और आईटी क्षेत्र में भी निवेशकों को आकर्षित किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड के इन सभी प्रगति, सिंगल विंडो सिस्टम और प्राकृतिक चिकित्सा, योग और आयुर्वेद की झलक एक फिल्म के ज़रिए देखी.

उत्तराखंड में राज्य सरकार के द्वारा चिह्नित 12 अलग-अलग क्षेत्रों के ज़रिए ग्रामीण क्षेत्रों की तस्वीर बदलने की उम्मीद है. राज्य में अभी तक 70 हज़ार करोड़ रुपये से ज़्यादा के निवेश के समझौते हो चुके हैं. इनमें सौर ऊर्जा में 27 हज़ार करोड़ का निवेश और कृषि क्षेत्र में 14 सौ करोड़ का निवेश प्रमुख है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के कई नीतिगत फैसले निवेशकों के हित में है साथ ही केंद्र सरकार भी लगातार राज्य के विकास में सहयोग कर रही है.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने निवेशक सम्मेलन में निवशकों का आभार जताते हुए कहा कि राज्य में 13 नए पर्यटन केंद्र बनाने की कोशिश की जा रही है. साथ ही उन्होंने कहा राज्य में उन्ही क्षेत्रों में निवेश के लिए प्रस्ताव आमंत्रित किए गए थे, जिनके लिए कुशल संसाधन और तकनीक की सभी ज़रूरतें मौजूद हैं.