सोमवार को पीएम मोदी का रूस दौरा, राष्ट्रपति पुतिन से करेंगे मुलाक़ात

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को रूस जा रहे हैं. वहां वे चौथी बार निर्वाचित रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ अनौपचारिक मुलाक़ात करेंगे. पीएम मोदी और पुतिन की मुलाक़ात सोची शहर में होगी. दोनों नेता भारत-रूस द्विपक्षीय संबंधों के वृहद एवं लंबे भविष्य को लेकर चर्चा करेंगे. खुद रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी को इस अनौपचारिक मुलाक़ात का निमंत्रण भेजा है.

सोची सोमवार को एक ख़ास मेहमान के स्वागत की तैयारी कर रहा है और वो हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जो रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आमंत्रण पर सोची पहुंच रहे हैं. निश्चित रूप से सोची शहर दो मित्र देशों के इतिहास में एक बेहद ज़रूरी पन्ना जोड़ने जा रहा है, जहां कूटनीति के आगे बढ़कर एक दूसरे को समझने और तमाम वैश्विक मुद्दों पर एक राय बनाने का मौका मिलेगा.

सोची को रूस का रिज़ॉर्ट शहर भी कहा जाता है, जहां यूरोप के अलावा एशियाई देशों के लोग भी पहुंचते हैं सुकून के कुछ पल बिताने. लेकिन 2014 के शीतकालीन ओलंपिक के बाद सोची की लोकप्रियता तेज़ी से बढ़ी. रूस का ये क्रास्नोडार क्षेत्र अब संवेदनशील कूटनीतिक संवादों को दिशा देने में अपनी एक बड़ी भूमिका निभा रहा है. जहां कभी जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्कल को आमंत्रित किया जाता है, तो कभी गृह युद्ध की मार झेल रहे सीरीया के बशर-अल-असद को.

सोची विशाल देश रूस के बिल्कुल दक्षिण-पश्चिम में स्थित शहर है. शहर के एक तरफ ब्लैक सी यानि काला सागर तो दूसरी तरफ काकेशियन पर्वतमाला है. यहां रूस के उत्तरी इलाकों की तरह हाड़ कंपा देने वाली ठंड नहीं, बल्कि भारत से मिलता-जुलता सदाबहार उपोष्णकटिबंधीय मौसम रहता है.