40 साल से आतंक सह रहे हैं, अब घर में घुसकर मारेंगे : PM मोदी

इस ख़बर को शेयर करें:

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि यदि भारतीय वायुसेना के पास राफेल युद्धक विमान होता तो दुश्मन का कोई भी हमलावर हवाई जहाज नहीं बचता, न ही देश को अपने एक जहाज का नुकसान सहना पड़ता। गुजरात दौरे के दौरान जामनगर में एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा कि विरोधी दल के नेता उनके इस बयान का गलत अर्थ निकाल रहे हैं कि यदि भारत के पास राफेल होता तो नतीजा कुछ और होता।

आलोचक यह सवाल उठा रहे हैं कि प्रधानमंत्री ने वायुसेना की क्षमता पर उंगली उठाई है। मोदी ने कहा, ‘‘अरे मेहरबान, कुछ सामान्य बुद्धि से काम लो। अगर हमारी सेना के पास राफेल होता तो हमारा एक भी जहाज नहीं गिरता और दुश्मन का एक भी जहाज नहीं बचता। मेरा हिसाब इस प्रकार है।’

उनकी बात आलोचकों को समझ में नही आती तो इसमें उनका क्या दोष
मोदी ने कहा कि यदि उनकी बात आलोचकों को समझ में नही आती तो इसमें उनका क्या दोष है। भारतीय जवानों के शौर्य और पराक्रम के प्रदर्शन से इनके पेट में दर्द होता है। आलोचकों को भारतीय जवानों की क्षमता और सामर्थ्य पर अविश्वास करने की बजाय उन पर भरोसा करना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद की बीमारी की जड़ पड़ोसी देश पाकिस्तान में है और इसका इलाज भी वहीं से करना होगा।

उन्होंने कहा कि जब कोई व्यक्ति फोड़े के इलाज के लिए डॉक्टर के पास जाता है और डॉक्टर बताता है कि यह तो रक्त संबंधी दोष है तो उसी के अनुरूप इलाज किया जाता है। इसी तरह आतंकवाद का जड़ से उन्मूलन करने के लिए हमारी सेना ने कार्रवाई की। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का संकल्प है कि आतंकवाद को जड़ से नष्ट होने तक वह चैन से नहीं बैठेंगे। देशवासियों को रक्षा सेनाओं पर भरोसा रखना चाहिए।

सत्ता की परवाह नहीं, घर में घुसकर मारेंगे
उन्होंने कहा कि भारत को निशाना बना रहे आतंकियों और सीमा पार बैठे उनके आकाओं को यह समझ लेना चाहिए कि भारत अब आतंकवाद को बर्दाश्त नही करेगा। पीएम मोदी ने कहा, मैं अब लंबा इंतजार नहीं कर सकता। चुन-चुन के हिसाब लेना मेरी फितरत है। पीएम ने कहा, अब घर में घुस के मारेंगे। 40 साल से आतंकवाद हिन्दुस्तान के सीने में गोलियां दाग रहा है, लेकिन वोट बैंक की राजनीति में डूबे लोग कदम उठाने से डरते थे।

मुझे सत्ता की कुर्सी की परवाह नहीं है, मुझे चिंता मेरे देश की है। मेरे देश के लोगों की सुरक्षा की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि विपक्षी दल जहां एक ओर देश की सेनाओं के प्रति अविश्वास प्रकट कर रहे हैं वहीं आगामी लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं। नरेन्द्र मोदी आतंकवाद को खत्म करना चाहता है जबकि विपक्षी दल मोदी को खत्म करना चाहते हैं। मोदी ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा शुरू की गई विकास यात्रा न रुकेगी और न धीमी पड़ेगी। देशवासी आश्वस्त रहें आगामी लोकसभा चुनाव के बाद वह फिर सत्ता में आ रहे हैं।