स्वतंत्रता दिवस पर पुलिस अधीक्षक ने अधिकारी व कर्मचारियों को प्रशस्तिपत्र देकर किया सम्मानित

जबलपुर। स्वतंत्रता दिवस पर प्रातः 8 बजे पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अमित कुमार (भा.पु.से.),  अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर (उत्तर)  अगम जैन (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर (दक्षिण) डाॅ. संजीव उइके, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण)  शिवेश सिंह बघेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध) गोपाल प्रसाद खाण्डेल एवं कार्यालयीन स्टाफ की उपस्थिति में ध्वजारोहण किया गया।

ध्वजारोहण के पश्चात पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा हाल ही में सेवा निवृत्त हुये नगर पुलिस अधीक्षक हरिओम शर्मा, अखिल वर्मा, तथा   नगर पुलिस अधीक्षक ओमती आर.डी. भारद्वाज नगर पुलिस अधीक्षक गोहलपुर अखिलेश गौर, रक्षित निरीक्षक सौरभ तिवारी, थाना प्रभारी कैंट विजय तिवारी, थाना प्रभारी ओमती एस.पी.एस. बघेल, थाना प्रभारी गोहलपुर आर.के. गौतम, थाना प्रभारी कोतवाली अनिल गुप्ता, थाना प्रभारी रांझी राजेश मालवीय, थाना प्रभारी सिविल लाईन शफीक खान, थाना प्रभारी माढेाताल श्रीमति रीना पाण्डे शर्मा, थाना प्रभारी पाटन आसिफ इकबाल, महिला अपराध शाखा जबलपुर मे पदस्थ निरीक्षक प्रीति तिवारी, थाना प्रभारी खमरिया निरूपा पाण्डे, थाना प्रभारी हनुमानताल उमेश गोल्हानी, सुबेदार प्रतिभा ठाकुर, सुबेदार मोहन सिंह , उप निरीक्षक चंद्रकांत झा, उप निरीक्षक जया तिवारी, थाना अधारताल मे पदस्थ सहायक उप निरीक्षक टेकचंद शर्मा, क्राईम ब्रांच जबलपुर में पदस्थ प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, जोनल विशेष शाखा जबलपुर मे पदस्थ उप निरीक्षक पिंकी गुरूंग, कंधीलाल मशराम , खोवा राम पटेल, पुलिस अधीक्षक जबलपुर कार्यालय में कार्यरत सुबेदार एम. तपन घोडेश्वर, उप निरीक्षक (अ) शशिकांत अहिरवार , सहायक उप निरीक्षक (अ) राकेश विश्वकर्मा, लक्ष्मी सेन, सहायक उप निरीक्षक  सीमा इंगोले, प्रमोद त्रिपाठी, प्रधान आरक्षक सुनील, जाहिद खान, संजय मिश्रा, हनुमान तिवारी, कुमुद गुप्ता, विक्रम शर्मा , निकेत राजपूत, जिला विशेष शाखा जबलपुर मे पदस्थ आरक्षक सुरेन्द्र पटेल, जोन पुलिस अधीक्षक विशेष शाखा जबलपुर मे पदस्थ आरक्षक पुनीत सिंह, आरक्षक चालक निशांत तिवारी को  वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण काल में कानून व्यवस्था बनाये रखने , स्थाई वारंटों की तामीली, गम्भीर अपराधों की विवेचना एवं समीक्षा, उल्लेखनीय असूचना संकलन, समय सीमा में शिकायतों का निकाल आदि हेतु प्रशस्तिपत्र देकर सम्मानित किया।