पुलिस ने जब्त की 1250 ग्राम चरस

जबलपुर@ बेलबाग थाना के अंतर्गत पुलिस ने दो लोगो को गिरफ्तार कर सवा किलो चरस जब्त की है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में चरस की कीमत 13 लाख रुपए बताई जा रही है। आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि आरोपी कहां से चरस लाते थे और शहर में किसे बेचा करते थे।

एसपी एमएस सिकरवार ने पत्रकारवार्ता में बताया कि 6 मार्च को दोपहर में मुखबिर से सूचना मिली कि दो लोग पांडे अस्पताल चौक ब्यौहारबाग में चरस की बिक्री के लिए खड़े हुए हैं। पुलिस ने घेराबंदी कर दो लोगों को पकड़ा। एक ने अपना नाम मंसूराबाद निवासी 38 वर्षीय अशरफ एवं दूसरे ने अपना नाम पचकुईयां निवासी 20 वर्षीय सोनू उर्फ सद्दाम बताया। तलाशी लेने पर अशरफ के पास से 775 ग्राम और सोनू उर्फ सद्दाम के पास 475 ग्राम यानी कुल 1250 ग्राम चरस मिली। दोनों आरोपी चरस अपनी-अपनी शर्ट के अंदर पॉलीथिन में रखे हुए थे। चरस की अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में कीमत 13 लाख रुपए बताई जा रही है।

मंसूराबाद निवासी अशरफ लंबे समय से मादक पदार्थों का व्यापार कर रहा है। वह पहले लार्डगंज थाना क्षेत्र में गांजा बेचते हुए पकड़ा जा चुका है। जेल से छूटने के बाद अशरफ ने अपने साले सोनू उर्फ सद्दाम को भी चरस की तस्करी में शामिल कर लिया। पुलिस का कहना है कि दोनों शहर में किस-किस को चरस सप्लाई किया करते थे। इसका पता लगाया जा रहा है।पहले पूछताछ में सोनू उर्फ सद्दाम ने बताया कि वह भोपाल में टेंट हाउस का काम करता था और वह भोपाल से ही चरस लाया करता था। पुलिस आरोपी के बयान की तस्दीक करने में जुटी हुई है। आरोपियों को गिरफ्तार करने में बेलबाग टीआई मोहित सक्सेना, एसआई निर्मल तिवारी, एएसआई रवि सिंह परिहार, आरक्षक अतुल गर्ग और भूपेन्द्र रावत की भूमिका रही। एसपी ने टीम को 10 हजार रुपए पुरस्कार देने की घोषणा की है।