आपत्तिजनक पोस्ट करने वाला युवक पहुंचा जेल

इस ख़बर को शेयर करें:

मंडला । कोरोना संक्रमण के बारे में फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैलाने वाले के विरुद्ध पुलिस ने अपराध दर्ज कर एक आरोपित को सोमवार को गिरफ्तार किया है। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण उत्पन्न वैश्विक महामारी के चुनौतीपूर्ण समय में कई असामाजिक तत्वों द्वारा सोशल मीडिया का प्रयोग कर भ्रामक पोस्ट के माध्यम से आमजनता में भय का माहौल पैदा करने के लिये किया जा रहा है।

पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से भ्रामक खबर फैलाने वालों के विरुद्ध कठोर वैधानिक कार्यवाही की चेतावनी जारी की गई है तथा आमजनता को भ्रामक तथा गलत पोस्ट से सतर्क रहने के लिए एडवायजरी भी जारी की गई है। इसके बाद भी आरोपित भ्रामक तथा गलत पोस्ट करने से बाज नहीं आ रहे हैं।

सोमवार को थाना कोतवाली क्षेत्रांतर्गत आरोपी फैजान खान निवासी जवाहर वार्ड द्वारा अपने फेसबुक प्रोफाईल से कोरोना वायरस संक्रमण के संबंध में भ्रामक तथा झूठी पोस्ट वायरल की गई। आरोपी द्वारा फेसबुक पर की गई पोस्ट के संबंध में शिकायत प्राप्त होने पर पुलिस द्वारा पोस्ट में उल्लेखित बातों के संबंध में जाँच की गई तथा जाँच में आरोपित द्वारा की गई पोस्ट आधारहीन तथा झूठी होना ज्ञात हुआ।

वैश्विक महामारी के संबंध में भ्रामक जानकारी फेसबुक पर पोस्ट कर आमजनता में भय एवं संशय उत्पन्न करने तथा शहर की शांति व्यवस्था को भंग करने का प्रयास करने के कारण आरोपी के विरुद्ध थाना कोतवाली पर अपराध क्र. 139/20 धारा 188 भादवि 54 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अंतर्गत पंजीबद्ध किया गया है।

कोतवाली पुलिस द्वारा घटना के आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है। जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। इस संबंध में मण्डला पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला का कहना है कि पुलिस द्वारा पुन: आमजनता से कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी प्रकार की अफवाह पर विश्वास नहीं करने तथा किसी भी व्यक्ति द्वारा भ्रामक, झुठी तथा दुर्भावनापूर्ण पोस्ट सोशल मीडिया पर डालने पर उसके विरुद्ध कठोर कार्यवाही की चेतावनी जारी की गई है।