“प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना” के बारे में जाने सम्पूर्ण जानकारी

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रधान मंत्री वाया वंदना योजना (PMVVY) एक पेंशन योजना है। भारत सरकार ने वर्ष 2017 में प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana या PMVVY) शुरू की थी। जिसमें 8% ब्याज का भुगतान और कोई GST नहीं लागू होगा, अर्थात माल और सेवा कर पर औपचारिक रूप से शुरू किया जा रहा है। PMVVY को शुरू करने की वजह थी वरिष्ठ नागरिकों को अपने निवेश पर अच्छा ब्याज मिले, काफी लोग रिटायर होने के बाद अपने निवेश (investment) से मिलने वाले ब्याज से ही अपने सारे खर्चों का भुगतान करते हैं।

सरकार ने इस परेशानी से कुछ राहत देने के लिए प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana or PMVVY) मई 2017 में शुरू की। LIC ने PMVVY प्रोडक्ट लॉच किया है, जिसमें 10 वर्ष तक 8% का ब्याज मिलेगा। 60 वर्ष या उससे अधिक के वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना शुरू की गई है। परन्तु पिछले कुछ समय से ब्याज दरें नीचे जा रही हैं। इससे बुजुर्गों के बजट पर काफी असर पड़ता है।

प्रधान मंत्री वाया वंदना योजना के बारे में कुछ विशेष बातें
यह योजना औपचारिक रूप से आज शुरू की जा रही है। यह योजना 4 मई 2017 से 3 मई 2018 तक उपलब्ध है। इसकी सीमा सीमित समय के लिए है इसलिए यदि आप इसका लाभ लेना चाहते हैं तो इसे यथाशीघ्र प्राप्त करने का प्रयास करें।

  1. प्रधानमंत्री वय वंदना योजना Pradhan Vaya Vandana Yojana (PMVVY in Hindi )
  2. न्यूनतम निवेश आयु (Minimum Entry Age) – 60 साल (complete)
  3. अधिकतम आयु (Maximum Entry Age) – कोई सीमा नहीं है
  4. पालिसी टर्म – 10 साल| इसका मतलब यह है की आपको 10 साल तक पेंशन मिलेगी।
  5. पेंशन Frequency: मासिक (monthly), तिमाही (quarterly), अर्धवार्षिक (Half-yearly) या वार्षिक (annual)| आप पेंशन भुगतान आवृत्ति (frequency) का चयन कर सकते हैं।
  6. न्यूनतम पेंशन (Minimum Pension): 1,000 रुपये प्रति माह, 3,000 रुपये प्रति तिमाही , 6,000 रुपये प्रति अर्ध वर्ष ( 6 महीना) या 12,000 रुपये प्रति वर्ष।
  7. अधिकतम पेंशन (Maximum Pension): 5,000 प्रति माह, प्रति तिमाही रु 15,000, प्रति अर्धवर्ष रु 30,000 या प्रति साल रु 60,000।
  8. अधिकतम पेंशन (Maximum Pension): 10,000 रुपये प्रति माह, 30,000 रुपये प्रति तिमाही, 60,000 रुपये प्रति अर्धवर्ष या 1.2 लाख रुपये प्रति वर्ष (Updated on May 3, 2018)
  9. ब्याज दर: 8% p.a.
  10. अगर आप भुगतान की frequency वार्षिक चुनते है, तो आपको 8.3% p.a. तक का रिटर्न मिल सकता है।
  11. LIC PMVYY Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana PMVVY minimum पेंशन maximum पेंशन उदाहरण के लिए: अगर आप 1.5 लाख रुपये का निवेश करते हैं और monthly (मासिक) पेंशन चाहते हैं, तो आपको हर महीने 1,000 रुपये मिलेंगे। यानी की साल के 12,000 रुपये। परन्तु अगर आप वार्षिक पेंशन चाहते हैं, तो आपको हर वर्ष 12,450 रुपये मिलेंगे।
  12. PMVVY में अधिकतम निवेश बढ़कर अब 15 लाख रुपये हो गया है| (Updated on May 3, 2018)
    एक बात और, निवेश की यह सीमा प्रति वरिष्ठ नागरिक है (और न की प्रति परिवार)| इसका मतलब पति और पत्नी दोनों मिला कर 30 लाख रूपए तक निवेश कर सकते हैं।
  13. निवेश करने पर GST नहीं लगेगा।
  14. 3 मई, 2018 31 मार्च 2020 तक योजना में निवेश कर सकते है। हो सकता है की उसके बाद भी इस स्कीम को बढ़ा दिया जाए पर interest rate अलग हो सकता है।
  15. पेंशन की राशि आपकी आयु पर निर्भर नहीं है।
  16. तीन साल के बाद आप 75 प्रतिशत राशि का लोन भी ले सकते हैं।
  17. आपको मिलने वाली पेंशन पर आपके टैक्स स्लैब से अनुसार टैक्स लगेगा।
  18. इस स्कीम में निवेश करने पर कोई टैक्स बेनिफिट नहीं मिलेगा।

आप LIC की website पर इस स्कीम के बारें में ज्यादा पढ़ सकते हैं।

जट 2018 में PMVVY में अधिकतम निवेश 7.5लाख से बढ़ाकर 15 लाख रुपये कर दिया गया| ऐसा होने पर आपकी अधिकतम मासिक आय 5,000 रुपये से बढ़कर 10,000 रुपये हो गयी है| भी एलआईसी के वेबसाइट पर ऐसी कोई जानकारी नहीं है परन्तु कुछ समय में आ जानी चाहिए|

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत कितनी पेंशन मिलेगी?

यह समझना बहुत आसान है, कि प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत कितनी पेंशन मिलेगी?आपके हर 1,000 रुपये के निवेश पर:

  • अगर वार्षिक पेंशन (annual pension) का विकल्प चुनते हैं, तो हर वर्ष 83 रुपये मिलेंगे।
  • अगर अर्ध-वार्षिक पेंशन (half-yearly pension) का विकल्प चुनते हैं, तो हर 6 महीने पर 40.65 रुपये मिलेंगे, यानी वर्ष के 81.30 रुपये।
  • अगर तिमाही पेंशन (quarterly pension) का विकल्प चुनते हैं, तो हर तिमाही 20.125 रुपये मिलेंगे, यानी की हर वर्ष 80.5 रुपये।
  • अगर मासिक पेंशन (monthly pension) का विकल्प चुनते हैं, तो हर महीने 6.67 रुपये मिलेंगे, यानी की हर वर्ष 80 रुपये।
  • मान लिए आपने 2 लाख रुपये के PMVVY में निवेश किया और मासिक पेंशन का विकल्प चुना, ऐसे में आपको 2 लाख 6.67/1,000 = 1,333 रुपये की मासिक पेंशन (monthly pension) मिलेगी।
  • अगर वार्षिक पेंशन का चुनाव किया होता, तो आपको 2 लाख * 83/1,000 = 16,600 रुपये की वार्षिक पेंशन मिलती।

प्रधानमंत्री वंदना योजना में मृत्यु (Death) लाभ और परिपक्वता (Maturity) लाभ

  • अगर पालिसी अवधि (10 साल) के दौरान पॉलिसी धारक की मृत्यु होने की स्थिति में, आपके nominee को निवेश राशि (बकाया ब्याज के साथ) वापिस कर दी जायेगी।
  • अगर पालिसी अवधि के दौरान निवेशक की मृत्यु नहीं होती, तो सारा पैसा निवेशक को ही लौटा दिया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) में असमय (premature) exit
  • यह इतना आसान नहीं है| आप अपनी मर्ज़ी से कभी भी पैसा नहीं निकाल सकते।
  • केवल यदि आपको अपने या अपने पति या पत्नी की किसी टर्मिनल/गंभीर बीमारी के इलाज के लिए पैसे की जरूरत है, तभी आप समय के पहले पैसे निकाल सकते है।
  • इस केस में भी आप को 2% की पेनल्टी देनी होगी। और आपको 98% राशि वापिस कर दी जायेगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना: टैक्स बेनिफिट (PMVVY Tax Benefit)

  • PMVVY में निवेश करने पर सेक्शन 80C के तहत कोई टैक्स बेनिफिट नहीं मिलता।
  • साथ ही मिलने वाली पेंशन पर आपको अपने टैक्स ब्रैकेट के अनुसार टैक्स देना होगा।
  • मेच्योरिटी के समय आपको आपका निवेश लौटा दिया जाएगा, इस राशि पर आपको कोई टैक्स नहीं देना होगा।

SCSS VS PMVVY

अब अगर 60 साल के ऊपर की आयु के लोगों के लिए किसी निवेश की बात करें, तो सबसे पहले वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizens Savings Scheme or SCSS) ध्यान में आती है।

इसलिए अगर PMVVY के बारे में बात कर रहे हैं, तो हम को PMVVY की तुलना SCSS से करनी ही चाहिए।

PMVVY 10 साल के लिए 8% की गारंटी वापसी प्रदान करता है| SCSS फिलहाल (8.3% p.a.) रिटर्न देता है परन्तु यह गारंटी केवल 5 साल के लिए है।

SCSS में आप 15 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं। साथ ही आप अपने पति या पत्नी के नाम पर और 15 लाख रुपये निवेश कर सकते हैं| तो कुल मिला कर आप 30 लाख तक निवेश कर सकते हैं।

दूसरी ओर, PMVVY के साथ, आप पूरे परिवार के लिए अधिकतम रु 7.5 लाख ही निवेश कर सकते हैं।

PMVVY में जो निवेश की सीमा है, वह सीमा प्रति सीनियर सिटीजन है। पहले यह निवेश सीमा पूरे परिवार के लिए थी।

तो देखें तो, पति और पत्नी (अगर दोनों वरिष्ठ नागरिक हैं), तो कुल मिलाकर 30 लाख रुपये PMVVY में निवेश कर सकते हैं और 20,000 रुपये प्रति महीने की पेंशन पा सकते हैं।

PMVVY in hindi Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana vs Senior Citizen savings scheme SCSS प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

PMVVY में समय से पहले पालिसी रोकने (सरेंडर) करने पर आपको केवल आपके निवेश का 98% ही वापिस मिलेगा। जैसे की ऊपर लिखा है की आप किसी गंभीर बीमारी की स्तिथि में ही PMVVY को बंद कर सकते हैं। परन्तु ऐसे में भी आपको केवल 98% राशि की वापिस मिलेगी।

आप देख सकते हैं SCSS में निवेश करने पर टैक्स बेनिफिट भी मिलता है और पैसा निकालना भी आसान है। मेरे अनुसार SCSS PMVVY (Pradhan Vaya Vandana Yojana) से बेहतर स्कीम है।

क्या आपको PMVVY में निवेश करना चाहिए?

  • PMVVY को समझना बहुत आसान है|
  • आप 10 साल के लिए ब्याज दर में लॉक कर सकते हैं|
  • प्रीमियम (खरीद मूल्य) पर निर्भर नहीं करता है। जो लोग 60 साल के आस पास की आयु के हैं उनके लिए अच्छा है| ऐसे लोगों को किसी और पेंशन प्लान में इतना ब्याज मिलना मुश्किल है|
  • यदि आप एक बैंक सावधि जमा के साथ तुलना करें, तो आज की तारिख में एक फिक्स्ड डिपॉज़िट (fixed deposit) से बहुत बेहतर ब्याज पा सकते है|

PMVVY की कमियाँ:

  • PMVVY एक वार्षिकी उत्पाद नहीं है। तो आप केवल दस साल के लिए ही interest rate लॉक कर सकते हैं| जब आपके 10 साल पूरे होंगे, तब आपको शायद इतना interest (ब्याज) न मिले|
  • आप गंभीर बीमारियों के मामले को छोड़कर पैसे का उपयोग नहीं कर सकते हैं|
  • अधिकतम 7.5 लाख रुपये तक ही निवेश कर सकते हैं| अभिकतम पेंशन 5,000 रुपये प्रतिमाह ही हो सकती है|
  • अधिकतम 15 लाख रुपये तक ही निवेश कर सकते हैं| अधिकतम पेंशन 10,000 रुपये प्रतिमाह ही हो सकती है| अगर पति/पत्नी को मिला लें, तो निवेश राशि और पेंशन दोगुनी हो जायेगी|
  • आपको पेंशन पर टैक्स देना होगा|
  • अगर आप काफी वृद्ध (75 या ऊपर) आप एक तत्काल वार्षिकी योजना (immediate annuity) के साथ एक बेहतर आय (शायद 8% से ज्यादा रिटर्न) प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही पूरे जीवन के लिए interest rate लॉक कर सकते हैं|
  • PMVVY उन निवेशकों के लिए अच्छा है, जो कम इनकम टैक्स ब्रैकेट में आते हैं और एक सरल उत्पाद के लिए देख रहे हैं|
  • याद रखें कि PMVVY एक आय उत्पाद (income product) है, जब तक आपको नियमित आय की जरूरत न हो तब तक इस उत्पाद में निवेश न करे।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) में निवेश कैसे करें?

  • आप निकटतम एलआईसी शाखा में जा कर निवेश कर सकते हैं।
  • अगर आप चाहें तो PMVVY में ऑनलाइन निवेश भी कर सकते हैं।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में निवेश करने के लिए आप इस लिंक पर जाएँ।

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना के लिए Eligibility

इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 60 साल होनी चाहिए और इस योजना के तहत पालिसी की अवधि 10 साल की होती है|

इस योजना के तहत न्यूनतम खरीद मूल्य 1.5 लाख रुपये होगा| इस योजना के तहत प्रति वर्ष 60,000 रुपये भरने होगे|

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना के लिए online कैसे apply करे?

Offline Purchase: आप अपने शहर में मौजूद LIC Office में जाकर Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana की पॉलिसी खरीद सकते हैं।चाहें तो किसी LIC Agent से भी इस पॉलिसी को खरीद सकते हैं।

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना के लिए आप ऑफलाइन और online भी apply कर सकते हो| Online आवेदन करने के लिए पहेले, LIC India की ऑफिसियल website पर जाइए| अब, वहा पे जाके प्रधान मंत्री वय वंदना योजना बैनर होगा उस बैनर पर क्लिक करे| जब आप क्लिक करेगे तो आपको वहा पर Buy Online ऑप्शन हॉगा, उस ऑप्शन पर क्लिक करे|

अब, आपको Access Id प्राप्त करना होगा उसके लिए आपको स्टेप-1 फॉर्म फिल करना पड़ेगा| उस फॉर्म में आपको आपका नाम, पिता का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, एड्रेस, आपको भविष्य में किस सर्विस यूनिट से सर्विस लेना चाहते हो वह भी लिखना होगा| Get Access Id ऑप्शन पर क्लिक करे|

ध्यान रखे: Access id में 9 डिजिट होते है|

अब आपको आपकी access id ईमेल या फिर sms के द्वारा मिल जाएगी| अब उस Access Id स्टेप २ के लिए enter करे और फिर आपको कुछ प्लान की डिटेल्स डी जाएगी जिस में से आपको एक प्लान पसंद करना होगा और फिर आपको कुछ और डिटेल्स भी देनी होगी वह दीजिये और एप्लीकेशन सबमिट करवाए

एप्लीकेशन पूर्ण तरह से सबमिट करने के बाद आपको acknowledge नंबर और पालिसी नंबर प्राप्त होगा|

15 दिन के भीतर पॉलिसी वापस करने का भी विकल्प (Policy Can be Surrendered Within 15 Days)

अगर आपने Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana की पॉलिसी खरीद ली है और बाद में आप खुद को इसके नियम और शर्तों से संतुष्ट नहीं पाते हैं तो इसे वापस भी कर सकते हैं। बीमा के संबंध में इस व्यवस्था को Free Look period कहा जाता है।

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana के संबंध में Free Look period इस प्रकार है :-

  • अगर आपने Offline पॉलिसी खरीदी है तो जिस तारीख को आपने Policy खरीदी है, उसके 15 दिनों के भीतर इसे एलआईसी को वापस (Surrender) कर सकते हैं।
  • अगर आपने पॉलिसी Online खरीदी है तो जिस तारीख को आपने Policy खरीदी है, उसके 30 दिनों के भीतर इसे एलआईसी को वापस (Surrender) कर सकते हैं।
  • अगर आप ऐसा करते हैं तो Stamp Duty और अगर किसी पेंशन किस्त का भुगतान आपको किया जा चुका है, उसे भी घटाकर बकाया पूरी रकम आपको वापस कर दी जाएगी।

फ्री लुक पीरियड के बेहतर उपयोग के लिए रखें ध्यान :-

बैक डेट में तो साइन नहीं कर रहे

पॉलिसी खरीदते समय ध्यान रखें कि एजेंट आपसे रसीद में कहीं बैकडेट में तो साइन नहीं करा रहा। बैक डेट में साइन का मतलब है कि आपके लिए Free Look Period (पॉलिसी वापसी की समय सीमा) उतने दिन ही कम हो जाएगी।

मैंडेटरी वेलकम कॉल में मिलती जानकारी

Policy खरीदने के बाद ग्राहक यानी आपके पास कंपनी की तरफ से Mandatory Welcome Call आता है। इसमें कंपनी की ओर से पॉलिसी के Features का पूरा ब्योरा दिया जाता है। अगर अपको लगता है कि Agent ने आपको कोई गलत जानकारी दी है तो पॉलिसी Cancell कर सकते हैं।

कंपनी के जरिए ही पॉलिसी कैंसल करें

Policy Cancel करने के लिए एजेंट के भरोसे न रहें। हो सकता कि उसकी व्यस्तता या लापरवाही के कारण आपका Application कंपनी के पास समय से न पहुंचे। इसलिए Policy Cancellation Application जमा करने के लिए आपको खुद कंपनी के Office जाना बेहतर रहेगा।

न्यूनतम/अधिकतम खरीद मूल्य और मिलने वाली पेंशन की किस्त ( Minimum/Maximum Deposit And Pension Instalment )

शुरुआत में इसे खरीदने के लिए एक साल (4 मई 2017 से लेकर 3 मई 2018 तक) का समय दिया गया था, जिसे 2018 के बजट में बढ़ाकर 31 मार्च 2020 तक कर दिया गया है। पॉलिसी लेने के लिए शुरुआत में अधिकतम रकम भी 7.5 लाख रुपये निश्चित की गई थी, ​उसे भी बढ़ाकर अब 15 लाख रुपये कर दिया गया है।

फिलहाल मार्च 2018 तक इस योजना में जमा रकम के आधार पर आपकी पेंशन किस्तें किस प्रकार बनेंगी, इसकी जानकारी के लिए आप नीचे दी गई टेबल को देख सकते हैं।

पेंशन प्राप्त करने की अवधि पॉलिसी का खरीद मूल्य पेंशन राशि
वार्षिक  1,44,578 12,000
अर्द्ध-वार्षिक 1,47,601 6,000
तिमाही 1,47,601 3,000
मासिक 1,50,000  1,000

अगर आपको पेंशन की राशि बढ़ानी हो तो ज्यादा पैसे की पॉलिसी खरीदनी होगी। जितने गुना ज्यादा पेंशन पाना हो उतने ही गुना पॉलिसी के लिए जमा राशि को बढ़ा दें। यानी अगर आपको हर महीने 5 हजार पेंशन चाहिए तो 7.5 लाख (1.5 लाख x 5) की पॉलिसी लेनी होगी। सालाना 84 हजार पेंशन चाहिए तो 7,22,890 (1,44,578 x 5) की पॉलिसी लेनी होगी।

वय वंदन योजना की खास बातें

जमाराशि की गणना पूरे एक परिवार के आधार पर होती है? (Deposit Limit For Whole Family not Individual)

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana में अधिकतम जमाराशि (Maximum Deposit Amount) एक पूरे परिवार के हिसाब से तय की गई है, है, न​ कि किसी एक व्यक्ति मात्र के लिए। यानी कि अगर किसी एक परिवार से, एक से अधिक लोग इस योजना में पैसा जमा करना चाहें तो सबकी रकम का जोड़, तय अधिकतम जमाराशि से ज्यादा नहीं होना चाहिए। एक परिवार के तहत पॉलिसी लेने वाला पेंशनभोगी, उसके पति/पत्नी, पु्त्र/पुत्रियां और कानूनी रूप से उस पर आश्रित (Depend) सभी सदस्यों को शामिल किया गया है।

उदाहरण के लिए, आपकी उम्र 65 वर्ष है और आपकी पत्नी की उम्र 60 वर्ष। आपके माता-पिता भी आप पर आश्रित (Depend) हैं। पिता की उम्र 87 वर्ष और माता की उम्र 84 वर्ष है। इस प्रकार आपके पूरे परिवार में 4 सदस्य ऐसे हैं, जो Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana का हिस्सा बन सकते हैं। लेकिन, ऐसा नहीं हो सकता कि कि चारों सदस्य अपने-​अपने लिए अलग-अलग अधिकतम राशि की Policy ले लें। चारों लोग अगर अलग-अलग Policy पॉलिसी लेते भी हैं तो सबकी जमा राशि मिलाकर Policy की अधिकतम राशि से ऊपर नहीं होनी चाहिए। क्योंकि Policy के नियम के मुताबिक चारों के चारों लोग एक ही परिवार में शामिल हैं।

पेंशन किस्तों का भुगतान सीधे खाते में (How Would you get your Pension Installment )

पेंशन का भुगतान ECS या नेटबैंकिंग (NEFT) के माध्यम से आपके Saving Account में कर दिया जाएगा। आपने पेंशन पाने के लिए जो भी Mode चुना है, [मासिक (Monthly)/तिमाही (Quarterly)/छमाही (Half yearly )/सालाना (Anualy)] उसके हिसाब से Pension आपके Saving Account में पहुंचती जाएगी।

मेच्योरिटी पर वापस होगी पॉलिसी की पूरी रकम

पॉलिसी की Maturity पर यानी कि 10 साल पूरे हो जाने पर आपकी पूरी जमा रकम वापस मिल जाएगी। इस रकम का भुगतान, आपके पेंशन की अंतिम किस्त के साथ ही कर दिया जाएगा।

पॉलिसी को मिली है सर्विस टैक्स और जीएसटी से छूट (Policy is Exempted From Service Tax & GST)

सरकार ने ‘Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana’ में ली गई Policy की खरीद को Tax Free रखा है। इस पर न तो Service Tax लगेगा और न ही GST चुकाना पड़ेगा। लेकिन, आपको जो पेंशन मिलेगी, उसकी रकम को Taxable Income में रखा गया है। इस पर संबंधित वर्ष के Income Tax Slab के अनुसार टैक्स की गणना होगी।

उल्लेखनीय है कि फिलहाल 2.5 लाख रुपए तक की सालाना आमदनी पर कोई Tax नहीं लगता है। तो अगर इस योजना की पेंशन और अन्य स्रोतों से होने वाली आपकी कुल आमदनी 2.5 लाख रुपए से ज्यादा है तो ज्यादा वाले हिस्से पर Tax की गणना होगी।

गंभीर बीमारी में इलाज के लिए भी निकाल सकते हैं पैसा (Pre Withdrawal is Possible In Terminal Deseases)

आप खुद को, पति या पत्नी को किसी गंभीर या मरणांतक बीमारी (Terminal Desease) की स्थिति में इलाज के लिए Policy की अवधि पूरी होने के पहले भी पैसा निकाल सकते हैं। ऐसे मामले में भी समयपूर्व पैसा ​निकालने पर, आपको Policy के खरीद मूल्य में से 2 प्रतिशत काटकर पैसा वापस ​किया जाएगा। यानी कि आप अपनी जमा रकम का 98% ही वापस पा सकते हैं।

जरूरत पड़ने पर पॉलिसी से लोन की भी सुविधा ( Loan Facility Is Available After 3 Years )

  • किसी घरेलू या अन्य काम के लिए जरूरी होने पर ‘Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana पॉलिसी के आधार पर आप, Loan भी ले सकते हैं। लोन के संबंध में निम्नलिखित शर्तें लागू होंगी।
  • लोन की सुविधा आपको 3 Policy Year पूरे होने के बाद ही मिल सकती है। यानी कि जिस तारीख को आपने पॉलिसी खरीदी थी, उसके तीन वर्ष पूरे होने के बाद ही आप Loan ले सकते हैं।
  • ‘Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana’ पॉलिसी में जितनी रकम आपने जमा की थी, उसका 75 प्रतिशत तक लोन के रूप में ले सकते हैं।
  • आप जो Loan लेंगे उस पर सरकार की ओर से मिल रही ब्याज से 2 प्रतिशत अधिक ब्याज आपको चुकानी होगी। चूंकि Government आपको 8% की दर से ब्याज चुका रही है, इसलिए आपको अपने Loan पर 10% सालाना के हिसाब से ब्याज भरना पड़ेगा।
  • Loan पर ब्याज का भुगतान आपकी पेंशन किस्तों से काट लिया जाएगा। बकाया रकम आपको पेंशन किस्त के रूप में मिलती रहेगी। Loan की वसूली, दावा प्रक्रिया (Claim) से कर ली जाएगी।

पेंशनधारक की मौत होने पर नॉमिनी को पूरा पैसा वापस (Whole Amount Return in Death Of Policy Holder)

अगर 10 वर्ष की पॉलिसी अवधि के दौरान पेंशनधारक (Pension Holder) की मौत हो जाती है तो उसके Nominee या कानूनी उत्तराधिकारी (Legal Heir) को Policy का पूरा का पूरा खरीद मूल्य (Purchase Price) वापस कर दिया जाएगा। इसके लिए उसे अपनी पहचान को प्रमाणित करने वाले समुचित दस्तावेजों के साथ आवेदन करना होगा।

Pension Yojana, Pradhan Mantri Vaya Vandana Pension Yojana, Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana, Vaya Vandana Pension Yojana, Vaya Vandana Yojana, पेंशन योजना, प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना, वंदना योजना, वाया वंदना योजना