प्रयागराजः पूर्व न्यायमूर्ति बीएस चौहान इलाहाबाद हाई कोर्ट दौरे का हाई कोर्ट बार एसोसिएशन ने किया विरोध

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रयागराज. हाई कोर्ट बार एसोसिएशन ने पूर्व न्यायमूर्ति बीएस चौहान के इलाहाबाद हाई कोर्ट दौरे का विरोध किया है. पूर्व जस्टिस बी एस चौहान 11 जनवरी को इलाहाबाद हाई कोर्ट आ रहे हैं. जस्टिस बीएस चौहान कानपुर बिकरु कांड की जांच कमेटी के चेयरमैन हैं.

जस्टिस बीएस चौहान अपने दौरे में विकास दुबे इनकाउंटर की वास्तविकता जांचने इलाहाबाद हाई कोर्ट आ रहे हैं. उन्हें यह जांच करना है कि विकास दुबे का एनकाउंटर फर्जी है या पूर्व नियोजित है. जस्टिस बीएस चौहान राज्य सरकार द्वारा गठित जांच कमेटी की अध्यक्षता कर रहे हैं.

बार एसोसिएशन का आरोप है कि जांच समिति अपने दायरे से बाहर जाकर न्यायालय व न्यायिक व्यवस्था की जांच नहीं कर सकती. बार एसोसिएशन ने कहा है कि यह असंवैधानिक है. किसी समिति द्वारा जांच करने का कोई प्रावधान नहीं है. हाई कोर्ट बार एसोसिएशन ने न्याय पालिका को अपमानित करने का भी आरोप लगाया है.

हाई कोर्ट बार एसोसिएशन अध्यक्ष अमरेन्द्र नाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में बार एसोसिएशन ने जस्टिस बीएस चौहान के विरोध का फैसला लिया गया. बैठक में वरिष्ठ उपाध्यक्ष जमील अहमद आजमी, उपाध्यक्ष अजय कुमार मिश्र, अनिल पाठक, रजनीकांत राय, केके मिश्र, अंजू श्रीवास्तव, महासचिव प्रभाशंकर मिश्र, संयुक्त सचिव अभिषेक शुक्ल, दिलीप पांडेय, राजेंद्र सिंह, मंजू कुमारी, कोषाध्यक्ष दुर्गेश चंद्र तिवारी व अन्य मौजूद रहे.