मुख्यमंत्री के इलाहाबाद आगमन पर समारोह की तैयारियॉ जोरों पर

इलाहाबाद (मंगलवार, 5 सितम्बर 2017) मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के आगमन से संबन्धित तैयारियों को लेकर इलाहाबाद प्रशासन बड़े जोर-शोर से व्यवस्थाएं मुकम्मल कराने में लगा हुआ है। इस कार्यक्रम में जनपद के 11500 किसानों को ऋण मोचन प्रमाण पत्र दिये जाने हैं तथा तीस से अधिक स्थायी निर्माण कार्याें की परियोजनों का शिलान्यास भी प्रस्तावित है। यह कार्यक्रम वर्तमान सरकार की दो महत्वाकांक्षी योजनाओं अर्द्धकुम्भ का आयोजन और फसली ऋण मोचन योजना के क्रियान्वयन से संबन्धित है, जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री के हाथों किया जाना है।

जिला प्रशासन के अधिकारियों ने आज तैयारियों का जायजा लेते हुए परेड ग्राउण्ड पर समारोह की व्यवस्था का गहनता से निरीक्षण किया। प्रशासन और पुलिस के आला अधिकारियों में मण्डलायुक्त डॉ0 आशीष कुमार गोयल, जिलाधिकारी श्री संजय कुमार, आईजी श्री रमित शर्मा, एसएसपी श्री आनंद कुलकर्णी तथा सीडीओ श्री सैमुअल पाल एन के साथ सभी विभागों के प्रमुख अधिकारी आज शाम समारोह स्थल से लेकर परेड ग्राउण्ड का निरीक्षण करते रहे। प्रशासन का खास ज़ोर इस बात पर है कि समारोह के दौरान अतिथियों और विशिष्ट महानुभावों के साथ-साथ किसानों और सामान्य जनता के अलावा मीडिया कर्मियों की सुविधाओं का भी व्यापक ध्यान रखा जाय।

परेड ग्राउण्ड के विशाल मैदान में जर्मन हैंगर का वाटर प्रूफ पण्डाल लगाकर हजारों लोगों के बैठने की बहुत ही सुगम व्यवस्था की जा रही है। परेड ग्राउण्ड में बने परम्परागत हेलीपैड पर मुख्यमंत्री का पूर्वान्ह 11 बजे आगमन प्रस्तावित है, जहां से सीधे परेड ग्राउण्ड पर बने स्टेज पर आकर मुख्यमंत्री जी किसानों को ऋण मोचन प्रमाण पत्र का वितरण करेंगे।
इस कार्य के लिये मुख्य विकास अधिकारी श्री सैमुअल पाल एन को नोडल अधिकारी तथा अपर जिला मजिस्ट्रेट खाद्य एवं आपूर्ति श्री अमर पाल सिंह को सह नोडल नामित किया गया है। मा0 मुख्यमंत्री द्वारा ऋण मोचन प्रमाण पत्र वितरण तथा शिलान्यास कार्यक्रम पर मण्डलायुक्त तथा जिलाधिकारी स्वयं हर व्यवस्था पर कड़ी नजर रखे हुये है।

जनपद के सभी उप जिलाधिकारियेां तथा सभी संबन्धित थानों को यह जिम्मेदारी दी गयी है कि वे लाभार्थी किसानों को बिना असुविधा के आरामदायक तरीके से समारोह स्थल तक ले आयें तथा उनके भोजन, जलपान एवं घर वापसी का अचूक प्रबन्ध मुख्यमंत्री द्वारा ऋण मोचन प्रमाण पत्र वितरण तथा शिलान्यास कार्यक्रम पूर्वान्ह 11 से अपरान्ह 12ः40 बजे तक प्रस्तावित है। तैयारियों की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने सीडीओ और पुलिस प्रशासन को यह निर्देशित किया है, कि वे लाभार्थी किसानों को केवल उनके निवास स्थान से लाने तक ही नहीं बल्कि उन्हें उनके घर तक सुरक्षित वापस पहुचाये जाने का भी फुलप्रूफ बन्दोबस्त किया जाया।

उन्होंने निर्देशित किया की जनपद के सभी उपजिलाधिकारी तथा संबन्धित थानों को यह जिम्मेदारी दी जाय कि आने वाले हर लाभार्थी किसान को उसके घर तक वापस पहुंचाये जाने की सूचना मोबाइल फोन से प्राप्त कर उनकी वापसी सुनिश्चित कर ली जाय तथा इस पूरी यात्रा में उसके भोजन, जलपान तथा आवागमन की सुविधा का व्यापक प्रबन्ध किया जाय। इसी तरह समारोह में आने वाले दर्शकगण, अतिथिगण, मीडियाकर्मियों को भी कोई असुविधा न हो इसके लिये एक दिन पहले ही प्रशासन रूट चाट एवं यातायात एडवाइजरी जारी कर दे।