भारत-इटली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन में शामिल हुए दोनों देशों के प्रधानमंत्री

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नई दिल्ली में इटली के प्रधानमंत्री ज्यूसेप कोंते के साथ भारत-इटली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया। इसका आयोजन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग और भारतीय उद्योग परिसंघ ने किया था।

सम्मेलन का उद्देश्य प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, संयुक्त उद्यमों, विकास और अनुसंधान तथा उद्योग और अनुसंधान संस्थानों की बाजार तक पहुंच सुगम बनाने में मदद करना है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत ने तो टेक्नॉलॉजी को सामाजिक न्याय, सशक्तिकरण, समावेश, सक्षम सरकारी तंत्र और पारदर्शिता का माध्यम बनाया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बर्थ सर्टिफिकेट से लेकर बुढ़ापे की पेंशन तक की अनेक सुविधाएं आज ऑनलाइन हैं। उन्होंने कहा कि 300 से अधिक केंद्र और राज्य सरकार की सेवाओं को उमंग App के माध्यम से एक प्लेटफॉर्म पर लाया गया है।

प्रधानमंत्री ने भारत-इटली द्विपक्षीय औद्योगिक शोध और विकास सहयोग कार्यक्रम के अगले चरण की शुरूआत होने पर खुशी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि इससे हमारे उद्योग और रिसर्च संस्थान बिना किसी बाधा के नए उत्पाद विकसित कर सकेंगे। प्रधानमंत्री ने भारतीय उपग्रह कम खर्चे में ही अंतरिक्ष में भेजे जा रहे हैं और इसका लाभ घर-घर तक पहुंचाने में उपयोगी साबित हो रहा है।