प्रतापगढ़ जनपद में 15 फरवरी से 11 अप्रैल तक निषेधाज्ञा लागू

प्रतापगढ़। उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षा परिषद एवं सी0बी0एस0सी0 व आई0सी0एस0सी0 बोर्ड द्वारा दिनांक 15 फरवरी 2020 से 30 मार्च 2020 तक संचालित होने वाली हाईस्कूल व इण्टर मीडिएट परीक्षाओं, महाशिवरात्रि (21 फरवरी), होली (09 से 11 मार्च तक), रामनवमी (02 अप्रैल) व महावीर जयन्ती (06 अप्रैल) एवं गुड फ्राइडे (10 अप्रैल) को सकुशल सम्पन्न कराया जाना है।

परीक्षाओं व त्योहारों के अवसर पर कतिपय असामाजिक तथा समाजविरोधी तत्व ऐसा कार्य कर सकते है जिससे जनपद में शान्ति व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है और जनमानस की सुरक्षा में व्यवधान उत्पन्न हो सकता है और परीक्षा की शुचिता एवं निष्पक्षता प्रभावित हो सकती है। इस अवसर पर शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से अपर जिला मजिस्ट्रेट शत्रोहन वैश्य ने द0प्र0सं0 की धारा-144 के अन्तर्गत सम्पूर्ण जनपद क्षेत्र में दिनांक 15 फरवरी 2020 से 11 अप्रैल 2020 तक निषेधाज्ञा लागू कर दिया है।

निषेधाज्ञा में निहित प्राविधानों में एक स्थान पर किसी भी प्रकार की भीड़ का जमाव होना प्रतिबन्धित किया जाता है। त्योहारों के पावन पर्व पर कोई नई परम्परा नही कायम की जायेगी। कोई भी व्यक्ति परीक्षा केन्द्रों या अन्य किसी सार्वजनिक स्थलों पर रिवाल्वर, पिस्टल, राइफल, एक नली या दो नली बन्दूक अथवा घातक हथियार यथा चाकू, बल्लम, फरसा, विस्फोटक, ज्वलनशील पदार्थ, तेजाब आदि अथवा लाठी, डंडा, हाकी स्टिक आदि या किसी भी प्रकार का हथियार/शस्त्र लेकर नहीं चलेगा, न तो उसका प्रयोग करेगा और न ही उसे अपने घर से बाहर निकालेगा।

यह प्रतिबन्ध सरकारी ड्युटी पर तैनात अधिकारी/कर्मचारी तथा बैंक में लगे हुये सुरक्षा कर्मियों पर लागू नहीं होगा। किसी भी सार्वजनिक धार्मिक स्थल/परीक्षा केन्द्र की 200 मी0 की परिधि में लाउडस्पीकर का प्रयोग किसी भी दशा में इस प्रकार से नही किया जायेगा जिससे विभिन्न सम्प्रदाय के लोगों में उत्तेजना फैलने की सम्भावना हो या परीक्षा में व्यवधान उत्पन्न हो।

लाउडस्पीकर का प्रयोग रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक किसी भी प्रकार से नही किया जायेगा। अन्य समय में लाउडस्पीकर का प्रयोग सक्षम अधिकारी सम्बन्धित उपजिला मजिस्ट्रेट की पूर्व अनुमति से ही किया जा सकेगा। कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह कोई भी मादक पदार्थ शराब आदि पीकर सड़क व परीक्षा केन्द्रों के आस-पास व परीक्षा केन्द्र की 200 मी0 की परिधि में नहीं घूमेगा और न ही नशे की हालत में कोई अवांछनीय कार्य करेगा जिससे किसी की भावना को ठेस पहुॅचे।

कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों द्वारा स्वैच्छिक संस्थाओं, परीक्षा केन्द्रों, बाजारों एवं दुकानों को बन्द कराने का प्रयास नहीं किया जायेगा और न ही किसी आवश्यक सेवाओं को प्रभावित करने का प्रयास किया जायेगा। कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह इन परीक्षाओं को अनुचित साधन विहीन एवं सकुशल तथा शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष तरीके से सम्पन्न कराये जाने में न तो किसी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न करेगा और न ही ऐसी कोई कार्यवाही करेगा जिससे कि उक्त परीक्षा को सम्पन्न कराये जाने में बाधा उत्पन्न हो एवं उसकी शुचिता एवं निष्पक्षता पर कुप्रभाव पड़े।

परीक्षा में अनुचित साधनों का प्रयोग पूर्णतया प्रतिबन्धित रहेगा। कोई भी व्यक्ति परीक्षा केन्द्र के अन्दर सक्षम अधिकारी की अनुमति के बिना सेलुलर फोन, पेजर, आई0टी0 गजेट्स या अन्य कोई इलेक्ट्रानिक वस्तु लेकर प्रवेश नही करेगा। परीक्षा तिथियों में परीक्षा केन्द्रों के आस-पास 500 मीटर की परिधि के समस्त फोटो कॉपियर मशीनें संचालित नही की जायेगी। परीक्षा की समाप्ति तक किसी भी अभ्यर्थी अथवा प्रश्न पत्र को परीक्षा केन्द्र के बाहर जाना पूर्णतया प्रतिबन्धित रहेगा।