‘हर-हर महादेव’ के जयकारे के साथ राहुल-अखिलेश भी बाबा विश्वनाथ की शरण में

वाराणसी की सियासी भिड़ंत में शनिवार को खूब जुबानी तीर चले. वाराणसी में रोड शो के दौरान राहुल ने कहा कि मोदीजी के जुमलेबाजी को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है. वाराणसी ने साबित कर दिया है कि यूपी का चुनाव आखिरी क्षण तक रहस्य और रोमांच से भरपूर रहने वाला है. ये वो मुकाबला है जो आखिरी गेंद तक चलेगा.

दरअसल बनारस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो के बाद राहुल गांधी और अखिलेश का रोड शो करने उतरे. अखिलेश के रोड शो में भी भारी भीड़ उमड़ी. आधे रोड शो के बाद डिंपल यादव भी रोड शो में शामिल हो गईं. राहुल और अखिलेश भी रोड शो के बाद भगवान बाबा काशी विश्वनाथ के मंदिर में पहुंचे और ‘हर-हर महादेव’ के नारे लगाए. इस अवसर पर अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव भी साथ थीं. दोनों ने साथ बाबा विश्वनाथ की पूजा अर्चना की. हालांकि अखिलेश सीएम बनने के बाद पहली बार यहां मत्था टेकने पहुंचे.

वहीं चौका घाट इलाके में बीजेपी और कांग्रेस-समाजवादी समर्थकों के बीच पथराव की खबर आई. पुलिस ने यहां घरों पर से बीजेपी का झंडा उतरवाया और पत्थरबाजों को खदेड़ा.

एक वक्त देर शाम तक अखिलेश-राहुल के रोड शो की वजह से पुलिस प्रशासन के हाथ-पांव फूलने लगे. बनारस के एसपी नितिन तिवारी ने सीएम अखिलेश यादव से मिलकर रोड शो जल्द खत्म करने की अपील की. क्योंकि टाउनहॉल में पीएम मोदी कार्यक्रम होना था और उसी रास्ते से पीएम को होकर गुजरना था जहां अखिलेश-राहुल के रोड शो चल रहे थे. हालांकि अखिलेश ने एसपी से पीएम मोदी के कार्यक्रम को कुछ देर के लिए टालने की बात कही थी. लेकिन फिर तय समय पर पीएम टाउन हॉल पहुंचे गए. जहां उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया

इससे पहले भदोही में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि वो कब्रिस्तान की बात करते हैं लेकिन हम छात्रों को लैपटॉप देने और राज्य में विकास करने की चर्चा करते हैं . अखिलेश ने अपनी सभा में भदोही की जनता से कहा कि आप हमें जिताइए ताकि हम राज्य का विकास कर सकें. छात्रों को बेहतर शिक्षा दिला सकें.

अखिलेश यादव ने कहा कि वाराणसी में प्रधानमंत्री और उनके तमाम मंत्रियों का जमावड़ा विधानसभा चुनाव में अपनी जमीन खोने से उपजी उनकी घबराहट को जाहिर कर रहा है. अखिलेश ने ज्ञानपुर स्थित पुलिस लाइन के सामने मैदान में हुई सभा में कहा कि इस उमड़े जनसैलाब को जो भी देख लेगा वह यह समझ जाएगा की जनता किसके साथ है. जनता अब सरकार बनाने को इंतजार नहीं करना चाहती.

सपा अध्यक्ष ने मोदी को चुनौती देते हुए कहा कि उन्होंने तो उत्तर प्रदेश में अपने 10 विकास कार्य तो बता दिए हैं. प्रधानमंत्री केन्द्र में अपनी सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के लिये किये गये 10 काम गिनाएं. हम पांच साल का हिसाब देते हैं और वह तीन साल का हिसाब दे कर बता दें.

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने पांच साल में बहुत काम किया है. अब अगली सरकार में और भी ज्यादा काम करके दिखा देंगे. जनता को सपा की नीतियों पर भरोसा है. दोबारा सरकार बनने पर प्रदेश की हर गरीब महिला को एक हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी.

जहां एक तरफ यूपी के सीएम ने रैली में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं वहीं दूसरी तरफ भाजपा और बसपा को चैलेंज किया कि अगर आपके पास गिनाने के लिए कुछ है तो गिनाइए. बताइए आपने राज्य के विकास के लिए क्या-क्या किया है.