गंगा यमुना नदियों में तेजी से बढ़ रहा जलस्तर खतरे के निशान से कुछ सेमी दूर

प्रयागराज:

जलस्तर सोमवार शाम छह बजे (मीटर में)
गंगा (फाफामऊ में)      -84.46
यमुना (नैनी में)          -84.34
गंगा-यमुना (छतनाग में) -83.71
खतरे का निशान          -84.73

प्रयागराज: गंगा /  यमुना , के बढ़े जल स्तर

से प्रयागराज शहर के निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं| दोनों नदियों के खतरे के निशान के कुछ ही दूरी पर रहने से और नदियों के रूद्र रूप को देखने के बाद निकले इलाकों में दहशत का माहौल है| डेढ़ सौ से ज्यादा गांव में बाढ़ की चपेट मैं है |गंगा यमुना नदियों से लगे हुए गांव मोहल्लों में पूरी तरीके से पानी भर चुका है| प्रशासनिक आंकड़े के अनुसार पांच हजार लोगों को राहत शिविरों में शिफ्ट किया गया है| गंगा यमुना के जलस्तर बढ़ने से दारागंज, छोटा बघाड़ा, चांदपुर सलोरी, सलोरी, शिवकुटी, तेलियरगंज ,रसूलाबाद, बेली गांव कछार, राजापुर, नेवादा, गौस नगर, करेलाबाग ,नैनी, झूसी, फाफामऊ, और कछारी इलाकों में मुसीबत खड़ी हो रही है हजारों घरों में पानी घुस गया है कुछ लोग छतों पर रहने को मजबूर हैं जिला प्रशासन पल पल बढ़ते जल स्तर पर नजर बनाए हुए हैं| बचाव कार्य के लिए सारी टीमें अलर्ट है| बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीमें लगाई गई हैं| रविवार को एनडीआरएफ की टीम ने लोगों को राहत शिविर तक सुरक्षित पहुंचाया| प्रयागराज शहर के निचले इलाकों में बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में 200 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाया| प्रयागराज जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया| बाढ़ राहत शिविरों में लोगों को दी जा रही सुविधाओं को भी देखा और लोगों से बातचीत भी की| अधिकारियों को निर्देश दिया कि जो लोग बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे हुए हैं| उन्हें शीघ्र वहां से निकालकर राहत केंद्रों में विस्थापित किया जाए| जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने बाबा चौराहा के पास स्थित ऋषि कुल उच्च माध्यमिक विद्यालय में राहत शिविर का निरीक्षण किया| जलभराव क्षेत्रों में जाकर वहां पर पानी की स्थिति का जायजा लिया और बक्शी बांध का भी निरीक्षण किया| जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने बताया कि ढाई सौ से दो सौ परिवारों ने बाढ़ राहत शिविर में शरण ली है| प्रयागराज जिले में कुल 31 राहत शिविर बनाए गए हैं|[ ब्यूरो रिपोर्ट ]