गोबर से निर्मित एक करोड़ दीपक का वितरण करेगा राष्ट्रीय गौ सेवा संघ

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

मन्दसौर । कोरोना की वैश्विक महामारी से आज पूरे विश्व के साथ-साथ भारतवर्ष जूझ रहा है, आत्मनिर्भर भारत में महिलाओं, युवाओं और गौशाला को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य के साथ-साथ पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने के उद्देश्य को लेकर सामाजिक संगठन राष्ट्रीय गौ सेवा संघ पूरे भारतवर्ष में दीपावली महापर्व पर एक करोड़ गोबर से निर्मित दीपक बनाकर 20 लाख परिवारों तक वितरित करेगा।

मां बगलामुखी आश्रम खाचरोद में आयोजित गौमय दीपक अभियान कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर राष्ट्रीय संरक्षक स्वामी कृष्णानंद जी महाराज ने कहा कि गाय के गौबर में माँ लक्ष्मी का वास होता है और हमारे शास्त्रो के अनुसार दीपावली पर गोबर के ही लक्ष्मी-गणेश का प्रतीक रूप में पूजन करने से माँ लक्ष्मी प्रसन्न होकर साल भर उस घर में वास करती हैं और जो दीपावली के दिन गौशाला को अपने घर की तरह सुन्दर और सुसज्जित बनाने का संकल्प लेता है स्वयं भगवान विष्णु उससे प्रसन्न होकर उसके लिय कुबेर के भण्डार खोल देते हैं ।

कार्यक्रम में उपस्थित जनों द्वारा गौमय दीपक बनाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम के अवसर पर प्रसिद्ध गायक कलाकार शर्मा बंधु के राजीव शर्मा द्वारा गोमय दीपक के आह्वान के लिए एक संगीत भी जारी किया गया। जिसका विमोचन भी पूज्य स्वामी कृष्णानंद जी महाराज द्वारा किया गया।