जिले के गौ-भैंस वंशीय पशुओं में किया जायेगा, मुंह-खुर रोग का प्रतिबंधात्मक टीकाकरण

जबलपुर । पालतू पशुओं को मुंह खुर रोग नामक घातक बीमारी से बचाव एवं रोग के नियंत्रण उन्मूजलन हेतु भारत सरकार के निर्देशानुसार ‘राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम’ (एन.ए.डी.सी.पी.) अंतर्गत 15 जुलाई से 30 अगस्त तक 45 दिवसीय अभियान में जिले के समस्त 3 लाख 96 हजार 419 गौ-भैंस वंशीय पशुओं में मुंह-खुर रोग का प्रतिबंधात्मक टीकाकरण कार्य किया जा रहा है।

जिला स्तरीय टीकाकरण कार्यक्रम के अध्यक्ष एवं कलेक्टर भरत यादव के दिशा निर्देश पर पशु चिकित्सा विभाग के अमले एवं गौसेवक के कुल 210 दलों द्वारा जिले के सभी सातों विकास खंड में एक साथ टीकाकरण कार्य किया जा रहा है।

भारत सरकार के निर्देशानुसार टीकाकरण के साथ साथ समस्त पशुओं के कार्यक्रम के कान में 12 संख्या वाला एक यू.आई.डी. टेग लगाया जा रहा है जिसका पंजीयन ‘इनाफ’ पोर्टल पर किया जाकर पशुपालकों को ‘पशु स्वास्थ्य सह टीकाकरण कार्ड’ प्रदाय किये जायेंगे।

उपसंचालक पशु चिकित्सां सेवायें डॉ. एस.के. बाजपेयी ने जिले के समस्ता पशु-पालकों से टीकाकरण दल यथोचित सहयोग की अपील की गई है ताकि पालतू पशुओं की अत्याधिक वेदनाकारी बीमारी को समूल समाप्त करने के लिये भारत सरकार की इस मुहिम को सफल बनाया जा सके।