शिवराज का पलटवार, कहा- किसानों को भ्रमित कर रहे हैं कमलनाथ

इस ख़बर को शेयर करें:

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव को लेकर राजनीतिक घमासान जारी है। प्रदेश की दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के बयान को लेकर उन पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि कमलनाथ जी झूठ बोलकर किसानों को भ्रमित कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को ट्वीट के माध्यम से कमलनाथ पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि ‘कमलनाथ जी झूठ बोल रहे हैं। अब उनकी सरकार नहीं है तो किसानों के कल्याण की बात कर रहे हैं। पहले के वचन उन्होंने निभाये नहीं और अब नये वचन देने लगे। सरकार तो आनी नहीं है। कुछ भी कह दो।

कृषि कानूनों को लेकर किसानों को भ्रमित किया जा रहा है कि मंडियां बंद हो जाएंगी। एमएसपी बंद हो जाएगी, जबकि माननीय प्रधानमंत्री जी, केन्‍द्रीय कृषि मंत्री स्वयं कह चुके हैं कि मंडियां बंद नहीं होंगी और एमएसपी भी जारी रहेगी। इसके बाद भी कृषि कानूनों का अंधा विरोध किया जा रहा है। मैं पूछना चाहता हूं कि जब उनकी 15 महीने तक सरकार थी, तब उन्होंने किसानों के लिए कोई योजना क्यों नहीं बनाई? कमलनाथ जी झूठ बोल रहे हैं और नये वादे कर किसानों को भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक अन्य ट्वीट में कमलनाथ द्वारा उन्हें उद्योगपति बताये जाने को लेकर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि ‘कमलनाथ जी याद कीजिए, आपकी पार्टी के ही एक नेता ने कुछ दिन पहले कहा था कि शिवराज भूखा-नंगा है और आप देश के दो नंबर के उद्योगपति हैं। यदि आपको उंगली उठाना ही है तो पहले अपनी पार्टी के नेताओं पर उठाइये।’