गनमैन मामले में फिर हुआ हंगामा

जबलपुर@ नगरनिगम में गनमैन मुद्दे पर हंगामा थम नहीं रहा है। आज फिर कांग्रेस ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए, सत्तापक्ष ने इन आरोपों को झुठलाया, विपक्ष ने बैठक का बहिष्कार किया, नारेबाजी की और यह क्रम चलता रहा। कई दिनों से एक ही नजारा दिख रहा है। सदन की बैठक बुलाई जाती है और बैठक शुरु होते ही हंगामा शुरु हो जाता है। सोमवार को भी फिर यही सब हुआ।

स्थगित हुए साधारण सम्मेलन की बैठक सुबह 11 बजे से बुलाई गई थी। बैठक में विपक्ष द्वारा गनमैन मामले के साथ अतिक्रमण अमले की मनमानी का मुद्दा उठाने की आशंका व्यक्त की जा रही थी और ऐसा ही हुआ। बैठक की शुुरुआत में ही सदन में हंगामा मच गया। अपनी बात नहीं सुने जाने के विरोध में कांग्रेसी पार्षदों ने बहिर्गमन कर दिया। विपक्ष सदन के बाहर निकला ओर फिर महापौर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। गनमैन मामले में निगमायुक्त द्वारा 2 लाख रुपए लिए जाने संबंधी शपथ पत्र भी प्रस्तुत किया गया। बैठक का बहिष्कार करने के बाद कांग्रेस पार्षद दल ने कमिश्नर के नाम ज्ञापन तैयार कर निगम में हो रहे भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच की मांग की। कांग्रेसियों ने कथित रूप में भ्रष्टाचार के सबूत भी दिए।

विपक्षी सदन से बाहर गए तो, विरोध में बोलनेवाला सदन में कोई बचा ही नहीं था सो भाजपाइयोंं ने बैठक में प्रस्तुत सभी प्रस्ताव बहुमत के आधार पर पास कर दिए।