रोड हादसे गर्भवती विवाहिता महिला गर्भस्थ शिशु की मौत

प्रतापगढ़ :प्रतापगढ़ नगर कोतवाली के महकनी गांव के निकट वाहन की टक्कर से बाइक सवार गर्भवती विवाहिता व उसके साथ रही एक अन्य  महिला की मौत हो गई। वहीं गर्भस्थ शिशु को भी बचाया नहीं जा सका। हादसे में बाइक चला रहा युवक गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उसे प्रयागराज के अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।नगर कोतवाली के कटरा मेदनीगंज के पास जद्द का पुरवा महकनी गांव की 35 वर्षीय आशा देवी गर्भवती थी। रविवार की रात करीब एक बजे उसे प्रसव पीड़ा हुई। उसके घर के प्रवीण उर्फ विद्या उसे लेकर बाइक से सुखपाल नगर स्वास्थ्य केंद्र ले गया। मदद के लिए उसके साथ पड़ोस में रहने वाली मंजू भी गई थी। स्वास्थ्य केंद्र में आशा देवी का परीक्षण करने के बाद चिकित्सक ने कहा कि अभी प्रसव में देर है, इसलिए उसे लेकर घर जाने की की सलाह दी। बाइक पर बैठाकर प्रवीण मंजू के साथ आशा देवी को वापस घर लौटने लगा। रास्ते में किसी अज्ञात वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में आशा देवी और मंजू की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं गर्भस्थ शिशु की भी जान चली गई। प्रवीण भी गंभीर रूप से जख्मी हो गया है। उसे पहले स्थानीय फिर प्रयागराज के अस्पताल के लिए चिकित्सकों ने रेफर कर दिया।गर्भवती महिला आशा देवी और पड़ोसी मंजू को लेकर प्रवीण सुखपाल नगर स्वास्थ्य केंद्र ले गया था। वहां चेकअप के बाद डाक्टर ने प्रसव में देरी की बात कहते हुए उन्हें वापस लौटा दिया। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल में एंबुलेंस की व्यवस्था न हो पाने की वजह से उन्हें बाइक से ही वापस लौटना पड़ा और हादसे में तीन मौत हो गई।[ ब्यूरो रिपोर्ट प्रतापगढ़]