संभल के सीडीओ पर गिरी CM योगी की गाज, अनुशासनहीनता के आरोप में निलंबित

इस ख़बर को शेयर करें:

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनुशासनहीनता के आरोप में संभल के मुख्य विकास अधिकारी रामसेवक को निलंबित करने का आदेश दिया है. मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर इस कार्रवाई की जानकारी दी है. मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘रामसेवक पर उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करने, आईजीआरएस अंतर्गत आख्या प्रेषित न करने, अधीनस्थों से अभद्रता करने और बगैर समुचित अनुमति के जनपद मुख्यालय से बाहर जाने सहित अनुशासनहीनता और स्वेच्छाचारिता के अनेक आरोप प्रथमदृष्टया सिद्ध हुए हैं’. जवाब मांगे जाने पर भी आरोपी अधिकारी की ओर से जवाब नहीं दिया गया.

मामले की जांच के लिए संयुक्त विकास आयुक्त बरेली मंडल को जांच अधिकारी नामित किया गया है. इसके अलावा प्रदेश सरकार ने प्रयागराज में सरकारी देसी शराब की दुकानों में अवैध शराब की बिक्री पर कड़ा एक्शन लेते हुए प्रयागराज के जिला आबकारी अधिकारी व निरीक्षक के साथ एक कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है.

मालूम हो ​कि प्रयागराज के फूलपुर में सरकारी शराब की दुकान से खरीदी गई मिलावटी शराब पीने से छह लोगों की मौत हो गई थी. जबकि आठ लोग अस्पताल में भर्ती कराए गए थे. प्रयागराज जनपद में अवैध रूप से शराब बिक्री का मामला सामने आ चुका है. सरकार के सख्त निर्देश के बाद भी तस्करों पर कार्रवाई नहीं की जा रही थी. इसलिए सरकार ने सख्त कार्रवाई की है.