कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए अब कम्यूनिटी स्प्रेड को चेक करने लिये जायेंगे सेम्पल

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के प्रयासों के तहत कम्यूनिटी स्प्रेड को चेक करने के लिए अब जिले में शासकीय, निजी अस्पतालों एवं केन्द्र शासन के अधीन सीजीएचएस डिस्पेंसरी में उपचार के लिये पहुंचने वाले लोगों के भी सेम्पल लिये जायेंगे ।

कलेक्टर श्री भरत यादव ने बताया कि आज इस संभावना पर की कोरोना वायरस का कम्यूनिटी में फैलाव तो नहीं हो रहा। ऐहतियातन आज बुधवार को भी सेम्पल लोगों के बीच से लेकर परीक्षण हेतु भेजा गया था, इनमें से एक की रिपोर्ट निगेटिव आई है । शेष पांच सेम्पल की रिपोर्ट कल प्राप्त होगी ।

श्री यादव ने बताया कि कम्यूनिटी स्प्रेड को चेक करने परीक्षण हेतु अस्पतालों, भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों एवं पॉजिटिव पाये गये व्यक्तियों के आसपास के क्षेत्रों से लोगों के सेम्पल लिये जाने की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ाई जायेगी और उनका आइसीएमआर की लैब से परीक्षण कराया जायेगा । बाहर से बड़ी संख्या में वापस आ रहे लोगों को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों से भी परीक्षण हेतु सेम्पल लिये जायेंगे ।

कलेक्टर ने जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के प्रयासों में मिल रहे सहयोग के प्रति शहर और जिले के नागरिकों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी के मिले-जुले प्रयासों के फलस्वरूप ही आज हम बेहतर स्थिति में हैं। उन्होंने कहा कि अभी भी हमें ज्यादा सतर्क रहने और कर्फ्यू एवं लॉकडाउन का कड़ाई से पालन करने की आवश्यकता है।

लोग सुरक्षित रहें इसके लिए धीरे-धीरे सख्ती और बढ़ायेंगे । श्री यादव ने आगे भी इसी तरह के सहयोग की अपेक्षा करते हुए कहा कि लोग घरों में ही रहें तथा सोशल डिस्टेंसिंग का और कड़ाई से पालन करें ताकि सामूहिक प्रयासों से हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकें ।

रेडक्रॉस को दान देने आगे आये दानदाताओं का माना आभार-

कलेक्टर श्री भरत यादव ने कर्फ्यू और लॉकडाउन के दौरान गरीबों एवं बेसहारा लोगों तथा मजदूरों को भोजन उपलब्ध कराने में रेडक्रॉस सोसायटी को सहयोग करने आगे आ रहे नागरिकों, समाजसेवी संस्थाओं, व्यापारिक एवं औद्योगिक संगठनों के प्रति आभार व्यक्त किया है ।

श्री यादव ने कहा कि सभी संगठनों एवं नागरिकों से अभी तक 30 लाख रूपये से अधिक की सहयोग राशि प्राप्त हो चुकी है । उन्होंने नागरिकों एवं संगठनों से आग्रह किया कि जिला रेडक्रॉस सोसायटी को गरीबों एवं बेसहारा लोगों तथा मजदूरों को भोजन उपलब्ध कराने के इस पुनीत कार्य में लगातार अपनी क्षमता के मुताबिक दान देते रहें ।  उन्होंने बताया कि नागरिक ऐसे लोगों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए किराना और खाद्यान्न भी नगर निगम अथवा ग्रामीण क्षेत्र के मामले में स्थानीय निकायों को दान में दे सकते हैं ।