सर्दी के सितम से शहर में दूसरी मौत

जबलपुर@ आगामी तीन दिनों में ठंड राहत देने के मूड में नहीं है। कल की तरह आज भी शहर में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री के आसपास रहा तो शहर से बाहर 3 डिग्री की वाला मौसम रहा। कड़कड़ाती ठंड का जनजीवन पर बुरा असर दिखने लगा है। बीती रात हाईकोर्ट के पास एक भिक्षु की ठंड से अकड़कर मौत हो गई। इस घटना के बाद एक बार फिर शहर में गरीबों के लिए अलाव की पर्याप्त व्यवस्था की मांग की जा रही है।

ठंड से हुई मौत का वाक्या सैयद ख्वाजा अमीनउद्दीन चिश्ती रहमत अलैह की दरगाह के पास का है। यहां कल शाम तक 60 साल के नारायण सिंह को लोगों ने कांपते देखा था। बाद में उसकी जीवनलीला समाप्त हो गई। पहले से बीमार चल रहे बुजुर्ग की मौत की खबर जब गरीब नवाज कमेटी के सदस्यों को लगी तो उन्होने बुजुर्ग के जानने-पहचानने वालों की खोज खबर ली तो बुजुर्ग का लड़का राजेश सिंह मिल गया।

मृतक के बेटे ने पिता का अंतिम संस्कार करने से ये कह कर इंकार कर दिया कि वो तो स्वयं मांग कर खा रहा है, ऐसे में पिता का अंतिम संस्कार कैसे करे। इस पर कमेटी के सैयद इनायत अली ने उसके पुत्र राजेश को साथ लेकर अन्य सदस्यों के साथ रानीताल मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार संपन्न कराया। पुत्र राजेश ने ही अपने पिता को मुखाग्नि दी। कमेटी सदस्य राजा चौरसिया, बाबू खान, मोहम्मद आरिफ, मोनू, शौकत अली, जुनैद कुरैशी आदि इस मौके पर उपस्थित थे।