समाज काे धमकाने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई : योगी

शामली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य के सभी लोगों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। समाज को धमकाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। श्री योगी आज यहां उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ शामली जिले में कैराना सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिये एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस सीट पर मतदान 28 मई को होना है।

उन्होंने कहा कि जो समाज के लिए खतरा बनेंगे, पुलिस उनके लिए खतरा बन जाएगी। 15 महीने पहले यहां दहशत थी, अराजकता थी, बड़े अपराधी व्यापरियों से गुंडा टैक्स वसूल करते थे। हमारी बहनों के लिये जो खतरा बनेगा, पुलिस उसके लिये खतरा बनेगी। यहां के सांसद रहे स्वर्गीय हुकुम सिंह ने पलायन का मुद्दा सड़क से संसद तक उठाया। उन्होंने कहा कि सूबे के प्रत्येक नागरिक को सुरक्षा प्रदान करना हमारा दायित्व है।

प्रदेश में अधिवक्ताओं और आंबनबाड़ी की समस्याएं पिछली सरकार की देन है। हमारी सरकार समस्याओं का समाधान करती है। सरकार बिना भेदभाव के आगे बढ़ रही है। श्री योगी ने कहा कि पिछली सरकार ने मुजफफरनगर को दंगे में झोंका। प्रदेश सरकार ऐसा नहीं होने देगी। अब प्रदेश में अन्याय नहीं होगा, दंगाइयों को सिर उठाने का मौका नहीं देंगे। बिना भेदभाव भर्तियों होंगी। किसानों के लिए रॉयल्टी फ्री की है।

सरकार ने कोल्हू लगाने में छूट दी है। प्रदेश से पलायन को रोका, लोगों को प्रदेश में काम देने का प्रयास कर रहे हैं। प्रजापति समाज को उचित सम्मान दिया जाएगा। प्रदेश के गन्ना किसानों को समय पर भुगतान कराया जा रहा है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश अपराध का उद्योग बन चुका था, अब बदमाश भागे-भागे फिर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की समस्याओं का जल्द समाधान होगा। अगले सप्ताह उन्हें मिलने के लिए बुलाया गया है। चार लाख 68 हजार निवेश से 35 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। कांवड यात्रा को सुविधाएं दीं। इस बार यात्रा में डीजे भी बजा और शंख भी। बिना भेदभाव योजनाओं का लाभ सभी तक पहुंचाया जाएगा। भाजपा ही अपराध व दंगा मुक्त प्रदेश दे सकती है।

मुख्यमंत्री की कैराना सीट पर हो रहे उपचुनाव में आज दूसरी जनसभा थी। इससे पहले श्री योगी ने गंगोह में गत 22 मई को चुनावी जनसभा को संबोधित किया था। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) केवल एकमात्र पार्टी है जो कांवड यात्रा के दौरान डीजे तथा अन्य यंत्रों को बजाने की लोकतांत्रिक अधिकारों की अनुमति देने के बाद भी दंगा मुक्त और अपराध मुक्त शासन दे सकती है।

श्री योगी ने कहा कि हम इस क्षेत्र में किसी भी सांप्रदायिक दंगा फैलाने की इजाजत नहीं देंगे। किसी भी आपराधिक कृत्य को सख्ती से निपटा जायेगा। अपराधियोें के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जा रही है। प्रदेश से अपराधियों का सफाया कर दिया गया है। लोगों ने निडर होकर जीना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगों के लिए जिम्मेदार लोग अब विपक्ष में बैठे हैं।

हमारे खिलाफ चुनाव लड़ रहे थे। जिन लोगों ने कैराना से पलायन किया था वे सब अपनी कर्मभूमि मेें वापस लौट रहे है। भाजपा शासन के दौरान अपराधी राज्य छोड़ने पर मजबूर हो गये हैं। भाजपा के सत्ता में लौटने के बाद यहां से पलायन कर गये व्यापारी वापस लौट रहे हैं। कैराना सीट पर हो रहे उपचुनाव में स्वर्गीय हुकुम सिंह की पुत्री मृगांका सिंह भाजपा के टिकट पर चुनाव मैदान में है।

श्री योगी ने कहा कि सरकार गन्ना देय राशि का भुगतान करने के लिए प्रतिबद्ध है। हाल ही में किसानों को 984.88 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया। उन्होंने कहा कि वकीलों और आंगनवाड़ियों की समस्या पिछले सरकारों के उदासीन रवैये के कारण आज तक लंबित है। उन्होंने घोषणा की कि राज्य में 4.68 लाख करोड़ रुपये के निवेश के साथ 35 लाख से ज्यादा युवाओं को नौकरियां मिलेंगी।

भाजपा को इस सीट को बरकरार रखने के लिए कैराना में एक कठिन चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। लोक दल के उम्मीदवार कुंवर हसन ने आज संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार तबस्सुम हसन के पक्ष में अपना नाम वापस लेने की घोषणा की है।

इस बीच, चुनाव आयोग ने मतदान के ठीक एक दिन पहले 27 मई को बागपत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रस्तावित सार्वजनिक रैली पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया।चुनाव आयोग सूत्रों ने कहा कि आचार संहिता शामली और सहारनपुर जिले में लागू है,इसलिये प्रधानमंत्री की बागपत में होने वाली रैली पर रोक नहीं लगायी जा सकती है। रालोद ने प्रधानमंत्री की बागपत रैेली पर रोक लगाने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा था कि इससे उपचुनाव में असर पड़ सकता है।