शिवसैनिको ने जबलपुर सांसद को ढूंढ कर लाने वाले को रखा 11/- रुपये का ईनाम

इस ख़बर को शेयर करें:

शिवसेना के नेतृत्व में जबलपुर सांसद का किया गया घेराव, सांसद के नदारद रहने पर शिवसैनिक अड़े गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाने के लिये, सिर्फ चुनाव लड़ने जबलपुर आते हैं

जबलपुर : शिवसेना प्रदेश प्रवक्ता म प्र कन्हैया तिवारी के नेतृत्व में छावनी उत्थान एवं संघर्ष समिति,छावनी किसान संघ द्वारा 26 जनवरी 2020 को,भारतमाता चौक, पेंटीनाका,सदर जबलपुर से केंट के जिन 24000 मतदाताओं के नाम काटें है उनकी ओर से लगभग दो हजार लोगों ने तख्तियां,बैनर लेकर अपना नाम केंट की मतदाता सूची में जोड़ने, केंट बोर्ड की तानाशाही प्रवृत्ति के विरुद्ध प्रदर्शन कर मरियम चौक,डिलाइट चौक, इलाहाबाद बैंक चौराहा होते हुए सिविललाइन थाने के सामने से सांसद राकेश सिंह के संसदीय निवास पर पहुंच कर ज्ञापन सौंपने नारेबाजी की, परन्तु जब सांसद राकेश सिंह बाहर नहीं आये तो सभी में आक्रोश बढ़ गया तब शिवसेना प्रदेश प्रवक्ता पं कन्हैया तिवारी ने सिविललाइन थाने में सांसद की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने पर अड़े और कहा कि ढूंढ कर लाने वाले को 11/- रुपये का ईनाम रखा।

“हम अपना अधिकार मांगते नहीं किसी से भीख माँगते “अभी तो ये अंगडाई है आगे और लड़ाई है”अध्यादेश लाओ “”केट एक्ट का काला कानून खतम करो ” नारेबाजी की बीच केंट के 24000 मतदाताओं पर हो रहे अत्याचार को उजागर किया इसपर क्षेत्रीय पार्षद, विधायक की निष्क्रियता के आरोप लगाये कि वे दिखावे की राजनीति कर रहे हैं ठोस कदम नहीं उठा रहे, अंत में सांसद के नाम ज्ञापन बहुत मान मनौवल्ल के बाद तहसीलदार राजेश सिंह को सौंपा और कहा कि संसद में यह अध्यादेश लाया जाए और जब तक 24000 मतदाताओं के नाम केंट की मतदाता सूची में नहीं जुड़ जाते तब तक केंट बोर्ड चुनाव सम्पन्न ना करायें ।

हजारों की संख्या में लोगो ने इस आंदोलन में हिस्सा लिया, सभी में आक्रोश था वही कन्हैया तिवारी का कहना था कि -” कि ये शंखनाद है समापन नहीं हम गरीब जनता को न्याय दिलाकर रहेंगे”।

ये रहे उपस्थित

जबलपुर सांसद राकेश सिंह का घेराव कर ज्ञापन सौंपने वालोँ मेँ कन्हैया तिवारी (शिवसेना प्रदेश प्रवक्ता म प्र), द्वारका वर्मा (पूर्व उपाध्यक्ष केंट) , लियो अलॉयसेस (पूर्व पार्षद केंट),घनश्याम पासी, सिराज अहमद,नंदुभैया, प्रकाश गौतेल, नरेश कुशवाहा, रोशन गौतेल, बबलू जयसवाल,सचिन रजक ,देवेन्द्र व नंद किशोर बावरिया,राजु पासी, प्रकाश पासी, दिलिप राव ,शैलेन्द्र बारी जिला प्रमुख, रवि बैन प्रदेश मीडिया प्रभारी, सनीचढ्ढा( जिला IT सेल प्रभारी), भृगुनाथ पटेल (उपाध्यक्ष),प्रमोद तिवारी,अशोक यादव, मनोज राज,हिमांशु त्रिपाठी, श्रीनिवास नायडू इत्यादि हजारों की संख्या में केंट वासी उपस्थित थे ।

कन्हैया तिवारी ने बताया कि आगामी आंदोलन केंट बोर्ड का घेराव 03 फरवरी 2020 ,सोमवार को किया जायेगा स्थान सदर काली मंदिर सिध्द पीठ के सामने,सदर से,प्रातः 11:00 बजे एकत्रित होकर अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ने 24000 मतदाता तैयार रहें ।