मंत्री यशोधरा के बंगले पर टैंकर से जा रहा पानी पब्लिक ने लूटा
शिवपुरी। अंचल
में जलसंकट कितना गहराया हुआ है कि पब्लिक अब पानी के लिए परेशान होकर मंत्रियों
के लिए जाने वाले पानी के अैंकर लूट रही है और इसके लिए जबाबदेह निकम्मा प्रशासन
एसी दफ्तराें में कुंभकर्ण की नींद सो रहा है। ऐसा ही मामला हुआ है शिवपुरी में।
जहां पर जल संकट इतना बढ़ गया है कि लोगों ने पानी के टैंकर को लूट लिया,
जिससे मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के बंगले में पानी
पहुंचाया जा रहा था। पानी के लिए परेशान लोगों ने भी स्पष्ट कर दिया कि पानी नहीं
मिलेगा तो टैंकर लूटे ही जाएंगे।
यह है मामला
जानकारी के
अनुसार शिवपुरी शहर में कई स्थानों पर नगर पालिका टैंकरों से पानी सप्लाई करती है,
क्योंकि वहां जल संकट बढ़ रहा है।
इन्हीं
टैंकरों से प्रदेश की उद्योग मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के बंगले पर पानी
पहुंचाया जाता है और दो टैंकर पानी प्रतिदिन वहां जाता है।
बुधवार को
जैसे ही मंत्री के लिए एक टैंकर पानी लेकर पहुंचा, वहां खड़े लोगों ने ट्रैक्टर को रोक लिया। लोगों की भीड़
देखकर ड्राइवर भी भाग गया।प्यासे लोग तुरंत ड्रम और बर्तन लेकर आए और टैंकर से
पानी भरकर ले गए। तभी पानी पर राजनीति करने आई एक महिला पार्षद नीलम बघेल ने लोगों
को रोकना चाहा, तो लोगों ने कहा कि पानी नहीं मिलेगा तो लूटा ही जाएगा। महिला पार्षद थाने
पहुंची,
लेकिन अफसरों ने कोई कार्रवाई इसलिए नहीं की,
क्योंकि जनता क गुस्सा भड़कने की आशंका थी।
प्लानिंग से
लूटा पानी

 

बताया जा रहा
है कि लोगों ने पानी के टैंकर लूटने के लिए पहले से ही तैयारी कर रखी थी । लोगों
ने जिस रास्ते से पानी का टैंकर जाता है उस रास्ते में कई ड्रम रखकर अवरोध पैदा कर
दिए,
जिससे टैंकर वाला ट्रैक्टर आगे ही नहीं बढ़ा पाया। 100
लोगों की भीड़ ने टैंकर आते ही उसे घेर लिया और पानी खाली करा लिया। हालांकि
यशोधरा राजे सिंधिया ने अपनी विधायक निधि से आमजन के लिए छह टैंकर भी दिए हैं,
फिर भी पानी का संकट बना हुआ है।