त्रिकटु चूर्ण काढ़ा के पैकेट पर शिवराज की तस्वीर पर कांग्रेस का तंज- मौतों के बीच प्रचार में लगे सीएम

इस ख़बर को शेयर करें:

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, ‘दवाओं पर भी विज्ञापन,-महामारी में भी बेशर्मी जारी है : जिस प्रदेश में 2300 संक्रमित और डॉक्टर-अफसर समेत 117 मौतें हुई हों, वहां का मुख्यमंत्री अपने फोटो छपवाकर प्रचार में लगा है। रोते, बिलखते, तड़पते, छटपटाते और दम तोड़ते इंसानों के बीच शिवराज का ये कौन सा महोत्सव काल है..?’

वहीं, राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने भी शिवराज सरकार को इस घटना पर घेरा है। तन्खा ने ट्वीट किया, ‘माफ करिए शिवराज जी। कोरोना से इस जंग में आपकी फोटो सरकारी पैकेटों में देना बहुत गलत संदेश दे रहा है। सरकारी पैकेटों पर ऐसा करना दंडनीय अपराध है। क्या यह आपकी अनुमति से हुआ है ! नहीं तो जिस अधिकारी के आदेश से हुआ है उसे दंडित करे।’

सरकार एक करोड़ व्यक्तियों को मुफ्त में देगी काढ़ा
गौतरलब हो कि देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित पांच राज्यों में शामिल मध्यप्रदेश में कोरोना प्रसार को रोकने के लिए सरकार कई कदम उठा रही है। इसी के तहत राज्य सरकार ने लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए लगभग एक करोड़ व्यक्तियों को मुफ्त में विशेष त्रिकटु चूर्ण काढ़ा वितरित करने का फैसला किया है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि जीवन अमृत योजना के अंतर्गत आयुष विभाग के सहयोग से मध्यप्रदेश लघु वनोपज संघ द्वारा इस काढ़े के 50-50 ग्राम के पैकेट तैयार किए गए हैं। ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में लगभग एक करोड़ व्यक्तियों को यह काढ़ा मुफ्त में वितरित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संकट के इस दौर में यह आवश्यक है कि हर व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रहे, जिससे यह वायरस हमें प्रभावित नहीं कर पाए। हम ऐसे प्रयास करें, जिससे कोरोना हो ही नहीं।

चौहान ने कहा कि हमारे ऋषियों एवं वैद्यों ने आयुर्वेद में ऐसी औषधियां बनाई हैं, जिनसे हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और हम स्वस्थ्य रहते हैं। हमारे आयुष विभाग द्वारा तैयार किया गया विशेष ‘त्रिकटु चूर्ण’ काढ़ा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में अत्यधिक कारगर है। इसे प्रतिदिन तीन से चार बार पिएं।