लॉकडाउन के दौरान ऊंची कीमत पर शक्कर बेचना दुकानदार को पड़ा मंहगा, दुकान हुई सील

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर। कर्फ्यू के दौरान आम लोगों को ऊंची कीमत पर शक्कर बेचना एक दुकानदार को मंहगा पड़ गया । जिला प्रशासन के अमले ने लोगों से मिली शिकायत पर गलगला स्थित दुकान पर छापामार कार्यवाही की और शिकायत सही पाये जाने पर इसे सील कर दिया । इसके साथ ही दुकान के सामने कचरा फैलाये जाने पर भी नगर निगम को दुकानदार के खिलाफ कार्यवाही करने सूचना दी गई है ।

ज्ञात हो कि कर्फ्यू एवं टोटल लॉकडाउन के दौरान लोगों को दैनिक रोजमर्रा की सामग्री आसानी से उपलब्ध हो इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा दूध, दवा, फल-सब्जी, किराना और राशन दुकानों को खेलने की अनुमति दी गई है । कर्फ्यू और टोटल लॉकडाउन में लगाये गये प्रतिबंधों का दुकानदार फायदा उठाकर अधिक कीमत न वसूलें और राशन सामग्री की कालाबाजारी न करें इसके लिए कलेक्टर श्री भरत यादव ने प्रशासनिक अमले को लोगों से मिलने वाली शिकायतों पर कठोर कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये हैं ।

कलेक्टर श्री यादव के निर्देशानुसार आज गुरूवार की शाम लोगों से शक्कर की अधिक कीमत वसूलने की मिली शिकायत पर एसडीएम रांझी मनीषा वास्कले के नेतृत्व में प्रशासन के दल ने गलगला स्थित भारत एण्ड कंपनी पर आकस्मिक कार्यवाही की ।  इस दौरान शिकायत की पुष्टि होने पर इस दुकान को सील कर दिया गया और दुकान के संचालक से स्पष्टीकरण तलब किया गया है । आकस्मिक जाँच की इस कार्यवाही में तहसीलदार राजेश सिंह भी शामिल थे ।

उन्होंने बताया कि भारत एण्ड कंपनी से 42 रूपये प्रतिकिलो की दर से शक्कर बेचने की दूरभाष पर प्राप्त हुई शिकायत सही पाये जाने पर पंचनामा भी बनाया गया है । तहसीलदार ने बताया कि दुकान के सामने कचरा फैलाये जाने पर भी नगर निगम को प्रकरण दर्ज करने के लिए सूचना भेजी गई है । इसी प्रकार प्रशासनिक अमले द्वारा एक अन्य कार्यवाही में संजीवनी नगर स्थित चौकसे किराना स्टोर्स को लायसेंस और पंजीयन न होने के कारण बंद करा दिया गया ।