भारत और क्रोएशिया के बीच दो समझौतों पर हस्ताक्षर

इस ख़बर को शेयर करें:

यूरोपीय देश क्रोएशिया की उप-प्रधानमंत्री मारिजा ने सोमवार को दिल्ली में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच व्यापार और निवेश, स्वास्थ्य और फार्मा, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, पर्यटन और संस्कृति समेत कई क्षेत्रों में आपसी सहयोग बढ़ाने पर सहमति बनी.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और क्रोएशिया की उपप्रधानमंत्री ने भारत-क्रोएशिया के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता में अपने-अपने देश का प्रतिनिधित्व किया और दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान और कूटनीतिक सहयोग को बढ़ावा देने संबंधी समझौते पर हस्ताक्षर हुए.

दरअसल भारत की विदेश नीति ने एक बार फिर दुनिया को अपनी ओर आकर्षित किया है. यूरोपीय देश क्रोएशिया की उपप्रधानमंत्री मारिजा पेजेकिनोविच ने अपना पद संभालने के बाद अपनी पहली एशिया यात्रा में भारत को चुना. मारिजा क्रोएशिया की उपप्रधानमंत्री होने के साथ-साथ विदेश मंत्री का कार्यभार भी देखती हैं.

इससे पहले क्रोएशिया की उपप्रधानमंत्री और यूरोपीय मामलों की मंत्री मारिजा ने लोक सभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन से मुलाकात की. इस दौरान दोनों नेताओं ने कई अहम मुद्दों पर चर्चा की. उपप्रधानमंत्री और विदेश मंत्री मारिजा की इस भारत यात्रा में एक और खास बात है.

मारिजा पेजेकिनोविच की ये यात्रा क्रोएशिया के किसी मंत्री द्वारा 17 साल बाद भारत की यात्रा है. हाल ही में भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने एशिया-यूरोप बैठक सम्मेलन में हिस्सा लिया था, जिसमें 51 देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने शिरकत की थी.