सिमी आतंकी का भाई,बहन के यहां छुपा था – संदिग्ध आतंकी को हिरासत में लिया गया

इंदौर@ महाराष्ट्र एटीएस ने मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक संदिग्ध आतंकी को हिरासत में लिया है। पकड़े गए युवक जादिल परवेज की एटीएस को एक साल से तलाश थी। वह इंदौर में अपनी बहन के घर आकर छिपा हुआ था। जादिल के भाई आमिल परवेज के खिलाफ कई मामले दर्ज है, वह अभी साबरमती जेल में बंद है।

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र एटीएस ने शुक्रवार रात को शहर के खजराना थाना क्षेत्र के खिजराबाद इलाके में दबिश देकर जादिल को अपनी गिरफ्त में लिया। जादिल पर देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा था, उसके बाद से वह फरार चल रहा था। महाराष्ट्र एटीएस ने मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक संदिग्ध आतंकी को हिरासत में लिया है। पकड़े गए युवक जादिल परवेज की एटीएस को एक साल से तलाश थी,वह इंदौर में अपनी बहन के घर आकर छिपा हुआ था। खजराना थाना प्रभारी कमलेश शर्मा ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है, उन्होंने बताया कि एटीएस ने मुंबई में आदिल परवेज नाम के युवक को गिरफ्तार किया था।उसके बयान के आधार पर ही इंदौर से जादिल की गिरफ्तारी हुई है।

बताया जा रहा है कि जादिल परवेज उज्जैन जिले के उन्हेंल का रहने वाला है,तकरीबन 3 महीने से वह अपनी बहन के घर पर छिपा हुआ था, इसके पहले वह महिदपुर में रहता था। 3 महीने से यहां आकर वह क्या कर रहा था परिवार वालों को कोई जानकारी नहीं है।जादिल का बड़ा भाई आमिल परवेज साबरमती जेल में बंद है, आमिल सिमी का कमांडर था। वह सिमी सरगना सफदर नागौरी का करीबी था।आमिल को 2008 में पुलिस ने सिमी के 13 आतंकियों के साथ इंदौर के श्याम नगर से गिरफ्तार किया था।