सोशल मीडिया में लोकप्रिय हो रहा है सिंहस्थ
उज्जैन में 22 अप्रैल से 21 मई तक होने वाले सिंहस्थ के प्रचार-प्रसार और इससे जुड़ी जानकारी को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय-स्तर पर प्रसारित करने के लिये सिंहस्थ की वेबसाइट तैयार की गयी है। सिंहस्थ की वेबसाइट 21 अप्रैल, 2015 को लांच की गयी थी। तब से अब तक सिंहस्थ वेबसाइट को करीब 3 लाख लोगों ने देखा है। वेबसाइट के अलावा सिंहस्थ का सोशल मीडिया के जरिये भी व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। 
सोशल मीडिया में कई माध्यम लोकप्रिय हो रहे हैं। सिंहस्थ को लेकर ट्वीटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और यू-ट्यूब पर भी जानकारियाँ प्रसारित की गयी हैं। फेसबुक को एक लाख से अधिक लोगों ने लाइक किया है। फेसबुक पेज 3 मार्च, 2015 को क्रियेट किया गया था। फेसबुक पेज को 10 लाख 4 हजार 178 लाइक्स प्राप्त हुए हैं। इसके अलावा ट्वीटर, इंस्टाग्राम और यू-ट्यूब एक जुलाई, 2015 से जानकारियाँ प्रसारित कर रहा है। ट्वीटर पर 19 हजार से अधिक फालोअर्स हो गये हैं।
सिंहस्थ की जानकारी पाकेट में
सिंहस्थ को ध्यान में रखते हुए उज्जैन को प्रदेश की ही नहीं, बल्कि देश की प्रमुख धर्म-नगरी बनाने के उद्देश्य से उज्जैन नगर में स्थायी प्रकृति के निर्माण कार्य करवाये हैं। सिंहस्थ में आने वाले श्रद्धालुओं को मेला क्षेत्र में की गयी व्यवस्थाओं की जानकारी तथा उनके उपयोग के लिये एक बहुत ही उपयोगी मोबाइल एप तैयार करवाया गया है। ऐसा अनुमान है कि सिंहस्थ के दौरान उज्जैन में 5 करोड़ श्रद्धालु पहुँचेंगे।
मोबाइल एप में 13 अति-महत्वपूर्ण और अत्याधुनिक फीचर्स रखे गये हैं। सिंहस्थ के दौरान किसी आपात या अप्रिय घटना होने पर मोबाइल एप के उपयोग से सबसे नजदीक अस्पताल, एम्बुलेंस के खड़े होने की स्थिति, जोनल एवं सेक्टर कार्यालय और पुलिस थाने आदि तक पहुँचने के रास्ते की जानकारी मिलेगी। एप में घाट, आश्रम-मंदिर एवं दर्शनीय स्थलों की जानकारी भी उपलब्ध है। एप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यदि किसी श्रद्धालु को किसी विशेष अखाड़े के महंत से आशीर्वाद प्राप्त करना है, तो इस मोबाइल एप में अखाड़े के महंत के नाम की जानकारी और प्लाट नम्बर भी उपलब्ध रहेगा। एप में एटीएम, पेट्रोल पम्प, भोजनालय, धर्मशाला, बस-स्टॉप, सेटेलाइट टाउन्स की भी जानकारी उपलब्ध करवायी गयी है। सिंहस्थ के दौरान मेला कार्यालय द्वारा समय-समय पर किये जाने वाले एनाउंसमेंट का ऑडियो भी मोबाइल एप पर उपलब्ध रहेगा। इस एनाउंसमेंट को एप के जरिये सुना जा सकेगा। मोबाइल एप में किसी भी फीचर्स को अत्याधिक उपयोगी बनाने के लिये इलास्टिक सर्च की व्यवस्था की गयी है। इलास्टिक सर्च आज के समय में सबसे अधिक हाई स्पीड सर्च की सुविधा प्रदान करता है।
मुकेश मोदी