बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे निर्माण के लिए छह बैंकों से मिला कर्ज

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए छह बैंकों से 5900 करोड़ रुपये का कर्ज मिल गया है। इसके लिए यूपीडा व बैंकों के मध्य ऋण राशि से संबंधित दस्तावेजों पर मंगलवार को हस्ताक्षर हुआ। यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी ने सभी बैंक अधिकारियों का आभार व्यक्त किया। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का 13 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।

यूपीडा और छह बैंकों बैंक ऑफ बड़ौदा, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, इंडियन बैंक, बैंक ऑफ इंडिया व यूको बैंक के बीच करार हुआ। यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में भी बैंकों ने पूर्ण सहयोग देकर कर्ज मंजूर किया है।

इससे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे परियोजना के लिए बैंकों के कंसोर्टियम की स्थापना संभव हो पाई है। बैंक ऑफ बड़ौदा ने इसका नेतृत्व स्वीकार किया है। निश्चय ही इस कदम से परियोजना के वित्त पोषण और निर्माण कार्य के साथ ही संकट के इस समय में गावों में स्थानीय आधार पर रोजगार सृजित करने में तीव्र गति प्राप्त होगी।

यूको बैंक के जोनल प्रबंधक ओम प्रकाश वर्मा ने यूपीडा द्वारा निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे परियोजना के वित्त पोषण के लिए पंजाब नेशनल बैंक के नेतृत्व में स्थापित बैंकों के कंसोर्शीयम में यूको बैंक को शामिल करते हुए 500 करोड़ के कर्ज स्वीकृति पत्र प्रदान किए। इसको शामिल करते हुए पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे परियोजना के लिए स्वीकृत बैंक ऋण राशि 11300 करोड़ रुपये हो गई है।