सपा की चौथी लिस्ट पर उठने लगे सवाल

कई बार हिचकोले खाने के बाद सपा और कांग्रेस के गठबंधन की नाव किसी तरह किनारे लग गई थी। दोनों तरफ से बयान बातचीत सब ठीक लग लग रहा था। लग रहा था दोनों तरफ से चुनाव लड़ने की तस्वीर फाइनल हो गई है। लेकिन सोमवार को दोपहर बाद एक बार फिर लगा कि पिक्चर अभी बाकि है मेरे दोस्त और ये सब हुआ सपा की एक और नई लिस्ट के साथ।

सपा ने चौथी लिस्ट जारी की है और इसके साथ ही समाजवादी पार्टी अबतक कुल 300 से अधिक उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर चुकी है। इस तरह समाजवादी पार्टी की तरफ से अबतक कुल 325 उम्मीदवारों का ऐलान किया जा चुका है. जबकि यूपी चुनाव को लेकर एसपी का गठंबधन 298+105 के फॉर्मूले के तहत हुआ है। सोमवार को दोनों दलों का औपचारिक गठबंधन हुआ था।

कांग्रेस पहले ही 40 लोगों की लिस्ट जारी कर चुकी है और सपा ने अभी तक अपने उम्मीदवार इन सीटों से वापस नही लिये हैं। ऐसे में सपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के उम्मीदवारों की धड़कनें बढ़ गई है। जबकि पहले दौर के नामांकन की अंतिम तारीख 24 जनवरी ही है।

इस सारे किंतु-परंतु के सवालों के बीच दोनों दलों में दबाव बनाने की राजनीति तो देखने को मिल ही रही है। वहीं बीजेपी ने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी पर सवाल खड़े किये है। वहीं विपक्षी दलों ने गठबंधन पर सवाल खड़े किये हैं।

चुनाव के दंगल में ये दंगल भी ग़जब रहा कि पार्टियां ही अपने उम्मीदवारों तय नहीं कर पाईं है, तो ऐसे में लोगों को इंतजार है अपनी बारी आने का।