प्रदेश की रोजगार प्रोफाइल तैयार होगी

अनुपपुर@ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रोजगार बोर्ड, कौशल विकास मिशन और औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में आपसी समन्वय स्थापित कर युवाओं के लिए रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर उपलब्ध करने की कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये हैं। शिवराज सिंह चौहान गत दिवस भोपाल मंत्रालय में रोजगार मंडल के पुनर्गठन के बाद पहली बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कौशल विकास और रोजगार सृजन साथ-साथ चलने से उद्योगों में कौशल सम्पन्न जनशक्ति की आवश्यकता पूरी हो जायेगी। उन्होंने रोजगार सृजन से विशेषज्ञों को जोड़ने के निर्देश दिए। प्रदेश की रोजगार प्रोफाइल तैयार करने के लिए सर्वेक्षण करने को कहा। इससे युवाओ को उद्योगों की आवश्यकतानुसार रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण देने में मदद मिलेगी।
मुख्यमंत्री ने रोजगार मेलों के आयोजन को और अधिक प्रभावी और परिणामोन्मुखी बनाने और कम्पनियों एवं कौशल संपन्न युवाओं के बीच संवाद के माध्यम से रोजगार उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सेना में भर्ती के लिए भी युवाओं के लिए प्रशिक्षण सत्रों का आयोजन निरंतर चाहिए। उन्होंने सैनिक स्कूल की उपयोगिता को देखते हुए अन्य स्थानों पर भी सैनिक स्कूल खोलने की सम्भावना तलाशने के निर्देश दिए।
बैठक में रोजगार बोर्ड के बजट, कार्य-परिषद के गठन, रोज़गार मेलों और रोजगार संवाद के आयोजन पर चर्चा हुई।
बैठक में बोर्ड के अध्यक्ष हेमंत देशमुख, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव, उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ल, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री अंतर सिंह आर्य और सम्बंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।