कलाईयों, बाज़ुओं, और एब्स को मज़बूत करता है पाचन में सुधार लाता है तुलासन

इस ख़बर को शेयर करें:

योग गुरू महेश अग्रवाल तुलासन के बारे में बताते है – तुलासन का नाम संस्कृत शब्द तुला पर रखा गया है, जिसका अर्थ संतुलन या बैलेंस है। यह आसन कठिन ज़रूर है, परंतु आपकी कोर या एब्स के लिए इस से ज़्यादा लाभदायक शायद ही कोई आसान है। तुलासन को उत्प्लुतिः (Utpluthih) या उत्थित पद्मासन (Utthita Padmasana or Raised Lotus Pose) भी कहा जाता है।

तुलासन के फायदे –

कलाईयों, बाज़ुओं, और एब्स को मज़बूत करता है,पेट और मूत्राशय उत्तेजित करता है। पाचन में सुधार लाता है।
जिन्हे पेट के अधिक फूले रहने की या गैस की परेशानी हो, उन्हे तुलासन से राहत मिलती है।

तुलासन करने का तरीका

  • दंडासन में बैठ जायें। हल्का सा हाथों से ज़मीन को दबाते हुए, और साँस अंदर लेते हुए रीढ़ की हड्डी को लंबा करें।
  • श्वास अंदर लें और अपनी दाईं टाँग को उठा कर दायें पैर को बाईं जाँघ पे ले आयें। और फिर दूसरे पैर के साथ भी ऐसा करें। अब आप पद्मासन में हैं।
  • दोनो हाथों को वापिस ज़मीन पर टिकायं, और ज़मीन को दबाते हुए शरीर को उपर उठायें।
  • शरीर और दोनो बाज़ू समान्तर होने चाहिए। घुटनों को जितना छाती के करीब ला सकते हैं उतना करीब ले आयें।
  • अब आप तुलासन की मुद्रा में हैं। जितनी देर हो सके इस मुद्रा में रहें। यह देर तक रहने के लिए कठिन मुद्रा है तो जितना हो सके उतना करें समय के साथ कोशिश करें की आप 60 सेकेंड तक तुलासन में रह पायें।

तुलासन का आसान तरीका –

अगर आपसे पद्मासन ना किया जाए, तो चौकड़ी मार कर या सुखासन में बैठ सकते हैं। अगर आप अपने को ज़मीन से उपर नहीं उठा पा रहे हैं तो पैरों को ज़मीन पर टिका कर रख सकते हैं और सिर्फ़ कूल्हों को उठायें। अगर आप को फिर भी दिक्कत हो तो हाथों के नीचे योगा ब्लॉक रख सकते हैं। अगर उपर उठ पा रहे हों पर ज़्यादा देर के लिए नहीं, तो अपने कूल्हों को तोड़ा पीछे ले जायें और अपनी पद्म मुद्रा को ज़मीन से समानांतर कर लें। ऐसा करने से तुलासन थोड़ा आसान हो जाता है।

तुलासन करने में क्या सावधानी बरती जाए –

जिनके घुटनों या टखनों में दर्द या चोट हो, उन्हे तुलासन नहीं करना चाहिए। अगर आपकी कलाईयों में चोट हो, तो तुलासन ना करें। कंधों में चोट या दर्द हो तो यह आसन ना करें। अपनी शारीरिक क्षमता से अधिक जोर न लगायें।

निशुल्क ऑनलाइन योग क्लास में जुड़ने के लिए फेसबुक पेज, आदर्श योग आध्यात्मिक केन्द्र की लिंक को लाइक करें ( महेश अग्रवाल 9827042893 )