केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना के नियमों में किया बदलाव

Sukanya Samriddhi Yojna

केंद्र सरकार ने सुकन्या समृ​द्धि योजना (SSY) को लेकर 12 दिसंबर 2019 को एक नया नोटिफिकेशन (SSY 2019 GSR 914 E) जारी किया है. इस स्कीम के तहत कोई भी व्यक्ति 10 साल से छोटी बच्ची के​ लिए SSY अकाउंट खोल सकता है. किसी एक अकाउंट होल्डर के नाम पर एक की सुकन्या समृद्धि अकाउंट (Sukanya Samriddhi Yojna) खोला जा सकता है.

सुकन्या समृ​द्धि अकाउंट खोलने के लिए, बच्ची का ब​र्थ सर्टिफिकेट (Berth Certificate) और अभिभावक के जरूरी कागजात देना होता है. कोई भी व्यक्ति अधिकतम दो बेटियों के लिए यह अकाउंट खोल सकता है. हालांकि, अगर किसी परिवार में जुड़वा बेटियों का जन्म होता है तो वहां पर दो से अधिक सुकन्य समृ​द्धि अकाउंट खोले जा सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि अकाउंट स्कीम 2019 डिपॉजिट:

एक वित्तीय वर्ष के दौरान किसी एक अकाउंट में अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक जमा किया जा सकता है. वहीं, एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम जमा राशि 250 रुपये है. इसका मतलब है कि किसी एक अकाउंट में एक वित्तीय वर्ष में आप अधिक से अधिक 1.5 लाख रुपये और कम से कम 250 रुपये तक निवेश कर सकते हैं.

अगर कोई व्यक्ति गलती से इस खाते में एक 1.5 लाख रुपये से अधिक जमा कर देता है यह रकम ब्याज के ​लिए नहीं कैलकुलेट किया जाएगा. साथ ही इस रकम को डिपॉजिटर्स के खाते में रिटर्न कर दिया जाएगा. इस खाते में 15 साल तक डिपॉजिट किया जा सकता है.

अगर इस अकाउंट में एक वित्तीय वर्ष के दौरान न्यूनतम रकम नहीं जमा किया जाता है तो 15 साल की अवधि के दौरान इसे कभी भी रेग्युलराइज किया जा सकता है. इसके ​लिए हर साल के हिसाब से 50 रुपये की पेनाल्टी देनी होगी.

सुकन्या समृद्धि अकाउंट स्कीम 2019 ब्याज दर:

मौजूदा समय में इस अकाउंट पर सरकार 8.40 फीसदी की दर से ब्याज दे रही है. इस पर ब्याज को हर माह 5 तारीख से लेकर माह के अंत तक जो भी न्यूनतम रकम होगी, उसी के हिसाब से कैलकुलेट किया जाएगा. हर वित्तीय वर्ष के बाद अकाउंट में ब्याज को क्रेडिट कर दिया जाएगा.सुकन्य समृ​द्धि अकाउंट को बच्ची के अभिभावक या माता/पिता 18 साल की उम्र तक संचालित कर सकते हैं. जैसे ही बच्ची की उम्र 18 साल हो जाएगी, वैसे ही बच्ची जरूरी डॉक्युमेंट्स जमा कर इस खाते का संचालन कर सकती है.