स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग : देश का सबसे स्वच्छ शहर इंदौर

इंदौर। केंद्रीय सरकार के #शहरी विकास मंत्रालय द्वारा #स्वच्छता सर्वेक्ष को लेकर रिपोर्ट जारी की गई। इस दौरान रैंकिंग में #इंदौर को पहला क्रम दिया गया है। दूसरी ओर #मध्यप्रदेश की राजधानी #भोपाल को दूसरे दर्जे पर रखा गया है। मिली जानकारी के अनुसार महापौर मालिनी गौड और नगर निगम आयुक्त ने समारोहपूर्वक आयोजन में मौजूद रहकर मध्यप्रदेश की ओर से प्रतिनिधित्व किया।

केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वैंकेया नायडू ने कहा कि मध्यप्रदेश के शहरों में स्वच्छता को लेकर किए जा रहे कार्यों में काफी प्रगति हुई है।गौरतलब है कि शहर के प्रमुख मार्गों और बाजारों में सुबह शाम और रात को भी लगातार सफाई की जा रही है। दूसरी ओर डोर टू डोर कचरा उठाने की व्यव्स्था भी की गई।

85 वार्ड में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन किया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार शहरों का चयन अस्पतालों में सफाई, साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट, सार्वजनिक शौचालयों में सफाई की व्यवस्था और अन्य आधारों पर किया गया था। गौरतलब है कि यह सर्वेक्षण 500 शहरों में हुआ था जिसमें 34 शहरों को शामिल किया गया था। सर्वेक्षण के इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के 8 शहर टाॅप 25 में शामिल हुए।

मध्य प्रदेश के सभी शहरों/कस्बों में 2016 और 2014 की तुलना में 2017 में स्वच्छता रैंकिंग में काफी सुधार हुआ है:

शहर/ कस्‍बा 434 शहरों / कस्बों में 2017 की  रैंकिंग 72 मिलियन सेअधिक जनसंख्यावाले शहरों की 2017 रैंकिंग एक मिलियन सेअधिक जनसंख्‍यावाले शहरों की 2016 की रैंकिंग 476 शहरों / कस्बोंमें 2014 की  रैंकिंग
इंदौर 1 1 25 149
 भोपाल 2 2 21 105
उज्जैन 12 लागू नहीं लागू नहीं 355
खरगोन 17 लागू नहीं लागू नहीं 391
जबलपुर 21     182
सागर 23     सर्वेक्षण नहींकिया गया
कटनी 24     287
ग्वालियर 27     400
ओंकारेश्वर 36     54
 रीवा 38     415
रतलाम 48     99
सिंगरौली 51     130
छिंदवाडा 53     54
सीहोर 55     423
देवास 58     88
होशंगाबाद 59     372
पीतमपुरा 61     389
खंडवा 73     231
मंदसौर 74     329
सतना 75     163
कोरबा 77     180
बेतुल 78     315
छतरपुर 92     432
नागदा 114     371
भिंड 128     475
नीमच 136     470
बुरहानपुर 138     280
सिवनी 163     126
विदिशा 173     312
मुरैना 205     428
शिवपुरी 228     387
दमोह 242     476
गुना 266     392
दतिया 289     292