माफिया एवं अपराधियों के खिलाफ करें सख्त कार्यवाही: कलेक्टर भरत यादव

जबलपुर  कलेक्टर भरत यादव ने आज शाम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में भू-माफिया, शराब माफिया, खनन माफिया एवं आपराधिक तत्वों के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये। श्री यादव ने कहा कि आपराधिक तत्वों और माफिया के विरूद्ध जो भी कार्यवाही हो वो पूरी तैयारी के साथ हो और अंजाम तक पहुंचे ताकि आमजनता में अच्छा संदेश जाए।

आपराधिक तत्वों को बाउण्ड ओव्हर करने के निर्देश

कलेक्टर श्री यादव ने बैठक में माफिया के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही के लिए पुलिस, राजस्व, खनिज और नगर निगम अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों के बीच बेहतर तालमेल पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि कार्यवाही के पहले संबंधित माफिया की पूरी गतिविधियां और उसकी चल-अचल संपत्ति व बैंक खातों का ब्यौरा तलाश लिया जाए। श्री यादव ने कहा कि ऐसे तत्वों पर कार्यवाही के वक्त अवैध कारोबार से अर्जित उसकी संपत्ति और बैंक खातों को भी सीज कर लिया जाना चाहिए। कलेक्टर ने बैठक में आपराधिक तत्वों को बाउण्ड ओव्हर करने के निर्देश भी दिये हैं। उन्होंने कहा कि आदतन अपराधियों के जिला बदर करने के प्रकरण भी तैयार किये जाएं। श्री यादव ने बैठक में आम जनता की कमाई का पैसा धोखाधड़ी कर हड़प करने वाली चिटफंड कंपनियों के विरूद्ध भी अभियान चलाने के निर्देश दिये हैं। 

मास्क न पहनने और फिजिकल डिस्टेंसिंग उल्लंघन करने वालों पर और सख्ती

कलेक्टर ने बैठक में आनलाईन फ्रॉड की मिल रही शिकायतों पर जांच की कार्यवाही में साइबर सेल के सहयोग करने के निर्देश संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिये हैं। श्री यादव ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए राजस्व, पुलिस, नगर निगम एवं स्थानीय निकायों के अधिकारियों को नियमों और पाबंदियों का कड़ाई से पालन कराने की हिदायद दी है। उन्होंने कहा कि मास्क न पहनने और फिजिकल डिस्टेंसिंग उल्लंघन करने वालों पर की जा रही कार्यवाही में और सख्ती बरती जाये। उन्होंने धार्मिक, सामाजिक एवं राजनैतिक आयोजनों पर भी नजर रखने तथा अनुमति की शर्तों का उल्लंघन पाये जाने पर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। श्री यादव ने कहा कि शादी, जन्मदिन या अन्य पारिवारिक कार्यक्रमों में शर्तों का उल्लंघन पाया जाता है तो संबंधित के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराई जाए।

श्री यादव ने किल कोरोना अभियान की अपने-अपने क्षेत्र में मानीटरिंग करने के निर्देश भी राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि अभियान के तहत सर्वे दलों के साथ असहयोग की मिलने वाली शिकायतों पर भी इन अधिकारियों को तुरंत कार्यवाही करनी होगी। उन्होंने सर्वे दलों के साथ नगर निगम के अमले की उपस्थिति सुनिश्चित करने पर भी जोर दिया।

अपने क्षेत्र का प्रतिदिन करें भ्रमण

कलेक्टर ने कहा कि किल कोरोना अभियान के तहत नगर निगम, पुलिस एवं राजस्व विभाग के नोडल अधिकारियों को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय बनाकर प्रतिदिन अपने-अपने क्षेत्र का भ्रमण भी करना होगा। उन्होंने सभी एसडीएम को कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन को ब्रेक करने अपने-अपने क्षेत्र में सप्ताह में इस बार किसी भी दिन सभी गतिविधियों को विराम देने की सलाह दी है।

होम आइसोलेशन उल्लंघन करने पर करें एफआईआर दर्ज

श्री यादव ने कंटोनमेंट जोन में लगाई पाबंदियों का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध भी सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को संस्थागत क्वारंटीन सेन्टर भेजा जाए। कलेक्टर ने होम आइसोलेशन का उल्लंघन करने वालों पर भी सख्ती बरतने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों पर 2 हजार रुपए का जुर्माना किया जाये और दोबारा उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज कर उन्हें सीधे संस्थागत क्वारंटीन सेक्टर भेजा जाए।

बिना किसी दबाव में आये कार्यवाही करने के दिये निर्देश

पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने बैठक में खनन, शराब, भू माफिया और अन्य सभी तरह के माफिया के विरूद्ध संयुक्त कार्यवाही पर बल दिया। उन्होंने कहा कि कार्यवाही पुख्ता और प्रभावी होनी चाहिए। ताकि ऐसे लोगों का हौसला पस्त हो। अवैध कारोबार से अर्जित की गई उनकी चल-अचल संपत्ति भी जब्त कर ली जाये। पुलिस अधीक्षक ने आपराधिक तत्वों के खिलाफ बिना किसी दबाव में आये कार्यवाही करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। उन्होंने आने वाले त्यौहारों को देखते हुए अभी से सतर्कता बरतने की हिदायत भी अधिकारियों को दी।

बैठक में ये थे मौजूद 

बैठक में पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा, नगर निगम आयुक्त अनूप कुमार, जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा, अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, संदीप जीआर एवं व्हीपी द्विेदी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित कुमार, अगम जैन एवं संजीव उइके सभी एसडीएम, खनिज, सहकारिता तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।