सेलबोट आईएनएसवी तारिणी भारतीय नौसेना में शामिल

समुद्र में चलने वाली सेलबोट आईएनएसवी तारिणी को कल शाम गोवा में भारतीय नौसेना में शामिल किया गया।
नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा की उपस्थिति में इसे आईएनएस मनदोवी के बोट पूल में शामिल किया गया। यह नौका भारतीय महिलाओं के सबसे पहले दल को दुनिया की सैर पर लेकर जाएगी जिसे भारतीय नौसेना द्वारा अगस्त में शुरू किया जाएगा।

ओडिशा के गंजाम जिले के प्रसिद्ध तारा तारिणी मंदिर से प्रेरित डिजाइन की इस नौका का नाम तारिणी रखा गया है जिसका संस्कृत में अर्थ है तारने वाला।

महादेई के बाद ‘तारिणी’ नौसेना का दूसरा नौकायन पोत है। कुल छह पाल वाली इस बोट में मुश्किल से मुश्किल हालात में भी सफर तय करने की ताकत है।

अत्याधुनिक सेटेलाइट सिस्टम के जरिये तारिणी के क्रू से दुनिया के किसी भी हिस्से में संपर्क किया जा सकता है। लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी के नेतृत्व में 6 महिला अधिकारियों के दल का चयन किया गया है।