“प्रयागराज में शांति “बंदी का माहौल सड़के रही सुनसान

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रयागराज: प्रयागराज मंगलवार हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के आवाहन पर आज मंगलवार को प्रयागराज शहर में बंद का असर दिखा। प्रयागराज में बंद के समर्थन में व्यापारी संगठन कई संस्थाएं भी शामिल रहे। सुबह से ही शहर के प्रमुख बाजार शॉपिंग मॉल स्कूल कॉलेज पेट्रोल पंप पर सन्नाटा छाया रहा। बच्चे घर से निकले स्कूल गए स्कूल के गेट पर बंद का बोर्ड देखकर वापस घर लौटे।

“क्रमिक अनशन ” महिला अधिवक्ता गणों ने भी बढ़ चढ़कर लिया हिस्सा

बंद के मद्देनजर प्रमुख बाजार और महत्वपूर्ण स्थानों पर प्रशासन की तरफ से सुरक्षा व्यवस्था भी मजबूत की गई पुलिस के साथ अर्ध सैनिक बल भी तैनात किए गए।  अधिवक्ताओं ने जुलूस निकालकर अपनी शक्ति का परिचय दिया। बंद के दौरान प्रयागराज शहर के सुनसान सड़क पर पुलिस की गाड़ियां और अर्धसैनिक बल के गाड़ियां दौड़ती दिखाई पड़ी।

“क्रमिक अनशन” करते अधिवक्ता गण

शहर से फेरबदल हुए सरकारी कार्यालयों को वापस लाने शिक्षा सेवा अधिकरण को प्रयागराज में स्थापित कराने को लेकर अधिवक्ता आंदोलनरत है। इसी मुद्दे को लेकर अधिवक्ताओं ने अनशन जारी रखने के साथ प्रयागराज बंद आवाहन किया। बंद की पूर्व संध्या पर टू व्हीलर पर जुलूस भी निकाला।

“क्रमिक अनशन” करते प्रयागराज हाईकोर्ट के अधिवक्ता गण

अधिवक्ताओं को समर्थन देने के लिए कई बड़े संगठन के लोग जुलूस में शामिल हुए। इन्हीं मांगों को लेकर हाई कोर्ट बार एसोसिएशन ने प्रयागराज बंद का आवाहन किया। प्रयागराज बंद में अधिवक्ताओं को सभी संगठनों का समर्थन मिला। प्रयागराज बंद का असर प्रयागराज के गंगा पार क्षेत्रों में भी देखने को मिला फाफामऊ में  बालिकाओं का राजकीय बालिका इंटर कॉलेज और आसपास के कुछ स्कूलों को भी बंद किया गया।प्रयागराज बंद के चलते हाई कोर्ट के अधिवक्ता न्यायिक कार्य से मंगलवार को विरत रहे।

प्रयागराज की विभिन्न सड़कों पर भारी संख्या में अधिवक्ता गण जुलूस निकालकर अपनी ताकत का परिचय देते हुए

वहीं सैकड़ों की संख्या में अधिवक्ताओं ने वाहन जुलूस हाई कोर्ट के निकट से निकाला। जुलूस शहर के विभिन्न मार्गों में भ्रमण किया। इस दौरान अधिवक्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर एकजुटता परिचय देते हुए नारेबाजी की। वहीं डॉ. भीमराव आंबेडकर चौराहा के पास हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के बैनर तले सोमवार को 8वें दिन क्रमिक अनशन जारी रहा। इसका नेतृत्व पूर्व अध्यक्ष अनिल तिवारी ने किया। बार अध्यक्ष राकेश पांडेय ने प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। बोले, सरकार की गलत नीतियों के चलते अधिकरण को लेकर विवाद खड़ा हुआ है। मौजूदा सरकार प्रयागराज की गरिमा गिराने के लिए यहां से सरकारी कार्यालय बिना सूचना दिए हटा रही है। इसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  [ ब्यूरो रिपोर्ट]