नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों के पार्थिव शरीर हैलीकाप्टर से भिण्ड पहुंचे

भिण्ड @ छत्तीसगढ के सुकमा जिले में नक्सलियों के हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के चतुर्वेदी नगर भिण्ड के निवासी जवान जितेन्द्र सिंह एवं मुरैना जिले के तरसमां गांव के निवासी एएसआई रामकृष्ण सिंह तोमर का पार्थिव शरीर सीमा सुरक्षा बल के हैलीकाप्टर से जिला मुख्यालय स्थित एसएएफ की 17वीं बटालियन के हैलीपेड पर पहुंचने पर शहीदो को गार्ड ऑफ ऑनर के साथ मातमी ध्वनि के साथ सलामी दी।

एसएएफ के हैलीपेड पर सीआरपीएफ के आईजी आरपी पाण्डेय, डीआईजी आरसी मीणा, कलेक्टर भिण्ड डॉ. इलैया राजा टी, मुरैना भास्कर लक्षाकार, एसपी भिण्ड प्रशांत खरे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुरैना अनुराग सुजानिया ने दोनो शहीदो के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदो को नम आखों से श्रृद्धांजलि दी। साथ ही भाजपा के जिलाध्यक्ष संजीव कांकर, पार्टी पदाधिकारी एडवोकेट अवधेश सिंह कुशवाह, रामनरेश शर्मा, उपेन्द्र भदौरिया, भरत शर्मा, अशोक तोमर, अन्य पार्टी पदाधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी, पत्रकार और परिवारीजनो ने पुष्पांजलि दी।

नक्सली हमले में शहीद हुए भिण्ड के जवान जितेन्द्र सिंह एवं मुरैना के एएसआई रामकृष्ण सिंह तोमर के पार्थिव शरीर एसएएफ ग्राउण्ड स्थित हैलीपेड से सीआरपीएफ की वाहनो से भिण्ड के चतुर्वेदी नगर एवं मुरैना जिले की तहसील पोरसा के ग्राम तरसमां के लिए रवाना हुए। दोनो शहीदो के वाहनो के पीछे सीआरपीएफ और प्रशासन तथा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का काफिला रवाना हुआ। इसके बाद शहीद जवान जितेन्द्र सिंह का पार्थिव शरीर उनके गृह निवास चतुर्वेदी नगर भिण्ड पहुंचा और मुरैना के शहीद एएसआई रामकृष्ण सिंह तोमर का पार्थिव शरीर भिण्ड से सडक मार्ग होते हुए पोरसा तरसमां पहुंचाया गया।