पत्थर से कूचकर युवक की नृशंस हत्या

इलाहाबाद : जौनपुर जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र स्थित गद्दोपुर राजा बाजार निवासी संतोष सिंह (45) की बुधवार रात ईट-पत्थर से कूचकर हत्या कर दी गई। गुरुवार सुबह सरायइनायत थाना क्षेत्र के अंदावा इलाके मे खेत पर खून से लथपथ लाश मिली। ग्रामीणो की सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की तो जेब मे मोबाइल, पहचान पत्र और एटीएम मिला। खबर पाकर परिजन भी थाने पहुंचे। बहन नगीना की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर पुलिस जांच कर रही है। फिलहाल कत्ल का कारण अभी स्पष्ट नही है। पंचम सिंह के दो बेटो मे छोटा संतोष मुंबई के एक होटल मे काम करता था। बहन के मुताबिक, मुंबई मे लोकल ट्रेन से गिरने के कारण संतोष जख्मी हुआ था। तब से वह मानसिक रूप से कमजोर हो गया था। शादी के कई वर्ष हो गए, लेकिन कोई संतान नही है। 10 दिन पहले प्रतापगढ़ मे ब्याही नगीना और संतोष माघ मेला आए। यहां बादशाहपुर के एक संत के आश्रम मे रुके थे। बुधवार को परिवार के साथ दोनो सिविल लाइंस बस अड्डे पर पहुंचे। संतोष बस मे भीड़ अधिक होने के कारण नगीना व अन्य को बैठा दिया लेकिन खुद नही चढ़ पाया। घरवालो ने सोचा दूसरी बस से घर पहुंच जाएगा। गुरुवार सुबह अंदावा के निकट एक खेत मे लाश मिली। बगल मे खून लगा ईटा भी मिला। हत्या की खबर फैलते ही ग्रामीणो की भीड़ जमा हो गई। पुलिस के साथ फोरेसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए। फिलहाल एसपी गंगापार सुनील सिंह ने बताया कि संतोष शराब का आदी था, छुड़ाने के लिए संत के पास ले जाया गया था। सिविल लाइंस से अंदावा कैसे पहुंचा। इसकी जांच की जा रही है। लूटपाट भी नही हुई है। मोबाइल से पता चला है कि रात साढ़े नौ बजे के बाद किसी से बात नही हुई। कॉल डिटेल रिपोर्ट निकलवाई जा रही है। उधर, संतोष की मौत से पत्‍‌नी ममता, भाई प्रमोद, मां मंगला रोते-बिलखते रहे।