उत्तर भारत में शीत लहर का कहर, लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से 16 डिग्री सेल्सियस

इस ख़बर को शेयर करें:

समूचा उत्‍तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। राष्‍ट्रीय राजधानी में कल का दिन पिछले 12 वर्षो में सबसे ठंडा रहा और तापमान गिरकर तीन दशमलव सात डिग्री सेल्‍सियस तक पहुंच गया। पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्‍थान, मध्‍यप्रदेश में शीत लहर का प्रकोप जारी।

पूरा उत्‍तर भारत इस वक्त ज़बरदस्त ठंड की चपेट में है। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में कल का दिन पिछले 12 वर्षो में सबसे ठंडा रहा और तापमान गिरकर तीन दशमलव सात डिग्री सेल्‍सियस तक पहुंच गया। उत्‍तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर कल भी सबसे ठंडा जिला रहा, जहां तापमान गिरकर शून्‍य डि‍ग्री सल्सियस पहुंच गया। उधर उत्‍तराखंड के कई इलाके भी भीषण ठंड की चपेट में हैं।

मौसम वि‍भाग के अनुसार ऊंचाई वाले इलाके चमोली और पिथौरागढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान हल्‍की वर्षा होने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा है कि उत्तर-पश्चिम भारत में तापमान एक से दो डिग्री का इजाफा होने की उम्‍मीद है। पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्‍थान, मध्‍यप्रदेश में अगले कुछ दिनों में ठंड बढ़ने की आशंका है। पंजाब, हरियाणा और यूपी के उत्तरी हिस्सों में अगले दो दिन, एक-दो स्‍थानों पर घना कोहरा रहने की संभावना है।

राजस्थान के कई इलाकों में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है और अनेक जगहों पर पारा शून्य डिग्री या इससे नीचे बना हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार बीती रात माउंट आबू में पारा जमाव बिंदु या शून्य डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं मैदानी इलाकों की बात की जाए तो सीकर जिले में फतेहपुर शेखावटी कस्बे में पारा माइनस 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

जम्‍मू-कश्‍मीर में लद्दाख क्षेत्र कड़ाके की ठंड की चपेट में है। लेह में न्‍यूनतम तापमान शून्‍य से 15 दशमलव आठ डिग्री सेल्सियस नीचे रिकार्ड किया गया। कश्‍मीर घाटी में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है। श्रीनगर में तापमान शून्‍य से पांच दशमलव चार डिग्री सेल्सियस नीचे है।