अपना शौक पूरा करने छात्र बने अपराधी

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर @ सिविल लाइन थानान्तर्गत ऐसा मामला सामने आया जहाँ अपने महंगे शौक को पूरा करने कॉलेज में पढ़ रहे तीन युवक अपराधी बन गए। पुलिस गिरफ्त में आया एक आरोपी पुलिस अधिकारी का बेटा बताया जा रहा है। क्राईम ब्रांच और सिविल लाईन पुलिस ने तीन ऐसे लड़कों को रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के पास से गिरफ्तार किया है, जो कि चैन स्नैचिंग और लूट जैसे अपराध में लिप्त थे। पुलिस ने इनके पास से लूट के कई मोबाईल-जेवरात और वो बाईक बरामद की है, जिससे कि ये लूट की वारदात को अंजाम दिया करते थे।

सिविल लाईन थाना प्रभारी अरविंद जैन के मुताबिक तीनों ही आरोपी कॉलेज के छात्र हैं, पर इनके महँगे शौक होने के चलते इन्होंने अपराध का रास्ता चुनकर लूट की वारदात को अंजाम देना शुरु कर दिया। जबकि पुलिस गिरफ्त में आए एक आरोपी के पिता एस आई हैं, जो कि जबलपुर के ही एक थाने में पदस्थ हैं । आरोपी रजत तिवारी, शुभम जायसवाल और सोनू आंनद आपस मे दोस्त हैं और अपनी जरुरतों को पूरा करने के लिए लूट और चैन स्नैचिंग जैसी वारदात को अंजाम देने लगे थे।

पुलिस के अनुसार, तीनों आरोपियों ने अभी तक लूट की तीन घटनाओं को करना कबूल किया है। फिलहाल क्राईम ब्रांच और सिविल लाईन पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है, पुलिस को आशंका है, कि इनसे औऱ कई बड़ी लूट का खुलासा हो सकता है।