जनसुनवाई में पूरी हुई मन की मुरादः पांच को मिली सरकारी नौकरी
मुरैना | कलेक्टर श्री विनोद शर्मा ने सम्बेदन शीतता का परिचय देते हुए पांच आवेदकों की अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों का निराकरण किया औरउन्हे जन सुनवाई के दौरान ही नियुक्ति पत्र देकर सरकारी नौकरी प्रदाय की। कलेक्टर द्वारा निःशक्त जनों को मौके पर ही ट्रायसाइकिल प्रदान की। इसके साथ ही अन्य 171 आवेदनों का भी निराकरण किया। 
   जन सुनवाई के दौरान जिन पांच आवेदकों को नियुक्ति पर त्र प्रदान किये गये उनमें कलेक्ट्रेट भृत्य स्व. श्री गोपालदास बाथम के पुत्र अमर बाथम को कलेक्ट्रेट में भृत्य के पद पर नियुक्ति दी गई। कलेक्ट्रेट के एक भृत्य स्व. श्री पवन कुमार कुलश्रेष्ठ की मृत्यु के उपरान्त उनकी पत्नी श्रीमती लक्ष्मी कुलश्रेष्ठ को कलेक्ट्रेट में भृत्य के पद पर नियुक्ति प्रदान की। इसी प्रकार स्व. श्री मुकेश जेल प्रहरी मुरैना के उपरान्त उनकी पत्नी श्रीमती संजू शर्मा को कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास में भृत्य के पद पर नियुक्ति दी गई। स्व. श्री कालू राम मण्डलोई के पुत्र श्री देवेन्द्र मण्डलोई को सहायक ग्रेड-3 के पद पर अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान की। 
   इसीक्रम में पांच के आवेदन श्री राहुल वमईयां को उनके पिता स्व. श्री श्रीराम वमईयां सहायक शिक्षक की मृत्यु के उपरान्त सहायक ग्रेड-3 के पद पर नियुक्ति दी गई। जनसुनवाई में पहुचे जौरा खुर्द निवासी निःशक्त श्री हरनाम किरार को दोनों पैर खराब होने की स्थति में ट्रायसाइकिल दी गई।