आयकर विभाग ने पूरी की 1 करोड़ से ज्यादा बैंक खातों की जांच

विमुद्रीकरण के दौरान गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सरकार की सख्ती जारी है। आयकर विभाग ने करीब 1 करोड़ बैंक खातों की जांच पूरी कर ली गई है। 18 लाख लोगों से पूछे जाएंगे सवाल । आयककर विभाग अपने डाटा बैंक में एक करोड़ से अधिक खातों के जरिये आंकड़ों का विश्लेषण शुरू किया है। इसका मिलान खाताधारकों के आयकर की स्थिति से किया है।

आयकर रिकार्ड के तहत देश में कुल 3.65 करोड़ व्यक्ति आयकर रिर्टिन फाइल करते हैं। इसके अलावा सात लाख से अधिक कंपनियां, 9.40 लाख हिंदु अविभाजित परिवार :एचयूएफ: तथा 9.18 लाख फर्म हैं जिन्होंने आकलन वर्ष 2014-15 में आईटीआर फाइल किया।

साथ ही वित्तीय समावेशी अभियान के तहत 25 करोड़ शून्य राशि वाले जनधन खाते खोले गये। आयकर विभाग सभी श्रेणी के खातों की जांच कर रहा है और ‘आपरेशन क्लीन मनी’ के तहत संदिग्ध जमा के लिये एसएमएस, ईमेल भेजेगा।