पूर्व डीजीपी का शर्मनाक बयान, मां को देख पता चलता है बेटी कितनी सुंदर रही होगी

इस ख़बर को शेयर करें:

नई दिल्ली। महिला सशक्तीकरण से संबंधित एक कार्यक्रम में निर्भया अवार्ड से सम्मानित करने के दौरान कर्नाटक के पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने 2012 दिसंबर में दिल्ली में हुए गैंगरेप की पीड़िता निर्भया की मां आशा देवी को लेकर बेहद आपत्तिजनक बयान दे दिया।

उन्होंने कहा कि निर्भया की मां के फिजिक को देखकर यह पता चलता है कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी। पूर्व डीजीपी के इस बयान पर बवाल मचा है। लेकिन पूर्व डीजीपी अपने बयान पर कायम हैं और कहते हैं कि इस मुद्दे को बेकार उछाला जा रहा है। मैंने महिलाओं को सुरक्षा और सुरक्षा के महत्व पर जोर देने के लिए कहा, उन्हें हर समय सुरक्षा दी जानी चाहिए।

एक अंग्रेजी न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान संगालियान ने अपने बयान को सही ठहराते हुए इसे दोबारा दोहराते हुए कहा कि मैंने सिर्फ इतना कहा कि निर्भया की मां की फिजिक अच्छी है, इससे निर्भया की सुंदरता का पता चलता है। मैंने यह बयान महिलाओं की कोमलता और सुंदरता को बताने के लिए दिया था। मुझे भी अक्सर लोग कहते हैं आप स्लिम और यंग हैं। मैं इस पर खुश रहता हूं। मैं अपने बयान को सीमा के अंदर मानता हूं, इसे बेवजह तूल दिया जा रहा है।

बतादें कि जिस कार्यक्रम में पूर्व डीजीपी सांगलियान ने यह बयान दिया उसमें कर्नाटक की आईपीएस अधिकारी डी रूपा भी मौजूद थीं। रूपा ने अपने ट्विटर अकाउंट से कार्यक्रम की तस्वीर भी शेयर की है। वहीं निर्भया की मां आशा देवी ने सांगलियान के बयान पर कहा कि अगर वह मुझपर व्यक्तिगत टिप्पणी करने की जगह मेरे संघर्ष के बारे में कुछ कहते तो ज्यादा अच्छा होता। यह दर्शाता है कि हमारे समाज में लोगों की सोच नहीं बदली है।

गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2012 की रात को दिल्ली के वसंत कुंज इलाके से फिजियोथेरेपी की छात्रा एक प्राइवेट बस में अपने दोस्त के साथ बैठी थी। इसी दौरान बस के स्टाफ ने उस छात्रा के साथ चलती बस में रेप कर बर्रबरता की। इस घटना ने पूरे देश को झकझोर दिया और लोग सड़कों पर आ गए थे। इस घटना में पीड़िता निर्भया की 29 दिसंबर को इलाज के दौरान मौत हो गई थी। इस मामले में सभी आरोपियों को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी।