दमोह: चोरी के शक में दुकानदार ने अपने कर्मचारी को इतना पीटा कि हो गई मौत
इस ख़बर को शेयर करें

दमोह(राजेश नामदेव)। चोरी के शक में एक दुकानदार ने जटाशंकर कॉलोनी निवासी अपने कर्मचारी इतना पीटा कि उसकी अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने आरोपित दुकानदार उसके बेटे व एक अन्य के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है और मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

कोतवाली टीआई एचआर पांडे ने बताया कि जटाशंकर कॉलोनी निवासी संतोष विश्वकर्मा नाम का युवक पप्पू सिंधी की दुकान पर काम करता था। गुरुवार शाम पप्पू सिंधी ने संतोष विश्वकर्मा को अपनी दुकान पर बुलाया और चोरी का आरोप लगाते हुए उसके साथ मारपीट कर दी। मारपीट की सूचना पर संतोष विश्वकर्मा की पत्नी दुकान पहुची तो उसके पति को काफी चोटें थी।

इसके बाद महिला कोतवाली पहुंची थी लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई। पप्पू सिंधी और संतोष विश्वकर्मा के बीच आपसी समझौता हो गया था, लेकिन संतोष को मारपीट में अधिक चोट आ गई थी, जिस कारण उसे जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था।

भर्ती के दौरान आरोपित पप्पू सिंधी के कहने पर संतोष की पत्नी ने अपने पति की चोट के निशान को एक एक्सीडेंट बताया था और गुरुवार देर रात उसकी मौत हो गई। अब उन्हीं स्वजनों ने कोतवाली पहुंचकर शिकायत की है कि आरोपित पप्पू सिंधी की मारपीट से उनके पति की मौत हुई है। पुलिस ने मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है और उसके साथ दो अन्य लोगों पर धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।